rahul (1)

आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस के प्रचार के लिए कर्नाटक पहुंचे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने शेर-ए-मैसूर टीपू सुल्तान को सांप्रदायिक सद्भाव का प्रतीक बताया है.

अपने दो दिवसीय दौरे के आखिरी दिन बुधवार को राहुल गांधी शृंगेरी मठ में दर्शन के लिए पहुंचे. इस दौरान मंदिर प्रशासन ने उन्हें टीपू सुल्तान के मंदिर से जुड़े रिश्तें के बारे में जानकारी दी.

राहुल को बताया गया कि मराठों के आक्रमण के समय किस तरह टीपू सुल्तान ने मंदिर और मठ की रक्षा की थी. मंदिर प्रशासन ने राहुल को बताया कि टीपू सुल्तान ने मंदिर को दान दिए और गोल्डन गिफ्ट से भी नवाजा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

शृंगेरी मठ में राहुल गांधी

श्रृंगेरी मठ पहुंचने के बाद राहुल गांधी मठ के पारंपरिक परिधान धोती और श्‍याला पहने नजर आए. इस दौरान राहुल गांधी ने मंदिर प्रशासन से कहा कि टीपू सुल्तान और शृंगेरी मठ की कहानी सौहार्द और कर्नाटक के लोगों की एकता का सर्वोत्कृष्ट उदाहरण है.

श्रृंगेरी से करीब 85 किलोमीटर दूर चिकमंगलुरु में राहुल गांधी ने यह कहते हुए लोगों से खुद को जोड़ने की कोशिश की कि उनकी दादी व पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने गरीबों, पिछड़े लोगों, किसानों और गरीबों के लिए काम किया और वह खुद भी उनके जैसे ही हैं.