raosaheb-danve-580x395

औरंगाबाद | किसी भी देश में चुनाव होने से पहले सभी पार्टिया अपना अपना प्रचार करती है. प्रचार के समय दिए जाने वाले भाषण , वोटर को प्रभावित करते है और वो उसी पक्ष की और झुक जाते है. लेकिन पिछले कुछ चुनावो से भारत में होने वाले चुनाव प्रचार काफी हाईटेक हो चुके है. कोई पार्टी वाईफाई देने की बात करता है तो कोई लैपटॉप. लेकिन अगर कोई नेता सीधे पैसे देने की बात करे तो… हाँ जी, सीधे रिश्वत ऑफर करे तो कैसा लगेगा.

कुछ ऐसा ही हुआ है औरंगाबाद के नगर निगम चुनावो में. महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष रावसाहेब दानवे ने चुनाव प्रचार के दौरान कुछ ऐसी बात कही जिससे विवाद पैदा हो गया. दानवे पर वोटर को रिश्वत देने और उनको प्रभावित करने का आरोप है. इससे सम्बंधित के विडियो आजकल सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है. इस विडियो में दानवे वोटर से सीधे पैसे लेने की बात करते हुए दिखाई दे रहे है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

औरंगाबाद में हुए नगर निगम चुनावो में प्रचार के दौरान दानवे एक मीटिंग को संबोधित कर रहे थे. इसमें वो वोटर से कहते है की चुनाव से एक दिन पहले ‘लक्ष्मी’ का दर्शन होता है, अगर आपके घर लक्ष्मी आती है तो वापिस मत भेजना बल्कि उनका स्वागत करना. इस विडियो में दानवे , लक्ष्मी शब्द का उपयोग पैसो के लिए कर रहे है. विडियो में साफ़ तौर पर दिख रहा है की वो वोट के बदले पैसे देने की बात कर रहे है.

विडियो के वायरल होते ही विपक्षी दलों ने बीजेपी और उनके नेता पर हमला बोल दिया. विपक्ष ने चुनाव आयोग से मामले की शिकयत कर , उनसे आवश्यक कार्यवाही की मांग की है. राज्य चुनाव आयुक्त जेएस सहरिया ने बताया की इस मामले में दानवे को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया गया है. कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने बताया की सोमवार को पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेता चुनाव आयोग जाकर दानवे के खिलाफ शिकायत दर्ज करेंगे.

Loading...