केसीआर की थर्ड फ्रंट की कवायद को लगा झटका, स्टालिन बोले – कांग्रेस के साथ आ जाइए

10:53 am Published by:-Hindi News

तेलंगाना के मुख्यमंत्री और टीआरएस प्रमुख के. चंद्रशेखर राव देश में अगली सरकार बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। ऐसे में वह तीसरे मोर्चे की सरकार के गठन की कोशिशों के लिए जुटे हुए है। लोकसभा चुनाव से पहले और चुनाव के दौरान केसीआर ने देश के कई क्षेत्रीय नेताओं से मुलाकात की।

इसी सिलसिले में उन्होंने सोमवार को डीएके प्रमुख एम के स्टालिन से मुलाकात की। लेकिन मुलाकात का नतीजा उम्मीद से उलट रहा। यूपीए के सहयोगी स्टालिन ने केसीआर को कांग्रेस को ही समर्थन देने को कहा। बता दें, स्टालिन दो बार राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाए जाने की पैरवी कर चुके हैं।

एनडीटीवी ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने ऐसे कई संकेत दिए हैं कि वह उप-प्रधानमंत्री बनने के लिए उत्सुक हैं। सूत्र के अनुसार, “केसीआर ने कहा कि क्षेत्रीय दलों को एक साथ आना होगा और सत्ता में बड़े हिस्सेदारी की मांग करनी चाहिए। सिर्फ कैबिनेट बर्थ (मंत्रालय) ही नहीं, बल्कि उससे ऊपर का कुछ मिलना चाहिए। उन्हें नीतिगत फैसलों और यहां तक कि राज्यपालों की नियुक्ति करने में भी भागीदारी मिलनी चाहिए।”

rahul gandhi 1

केसीआर ने कुछ ही दिन पहले केरल के सीएम पिनराई विजयन से मुलाकात की थी। केसीआर ने पिनराई से कहा था कि चुनाव नतीजों में क्षेत्रीय दल बड़ी शक्ति बनकर उभरेंगे और केंद्र में सरकार बनाने के लिए कांग्रेस और बीजेपी के पास पर्याप्त संख्या नहीं होगी।

DMK ने यह भी कहा कि केंद्र में क्षेत्रीय पार्टियों द्वारा संचालित सरकार बनाने का विचार सफल नहीं होने के आसार हैं, क्योंकि अलग-अलग राज्यों को लेकर कुछ पार्टियों के रुख अलग-अलग हैं।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें