पटना | बिहार में हुए सर्जन घोटाले के एक आरोपी की रविवार रात को मौत हो गयी. इस तरह आरोपी की मौत होने पर राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने मुख्यमंत्री नितीश कुमार पर हमला बोला है. उन्होंने नितीश को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा की मरने वाला जेडीयु के बहुत अमीर नेता का पिता था. उधर बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भी आरोपी की मौत पर प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने सर्जन घोटले को व्यापम घोटाले से भी बड़ा बताया है.

दरअसल रविवार रात को सर्जन घोटाले के एक आरोपी नाजिर महेश की मौत हो गयी. फ़िलहाल किसी बीमारी के कारण उनका इलाज चल रहा था. इलाज के दौरान ही उनकी मौत हो गयी. बताया जा रहा है की नाजिर , सर्जन घोटाले की अहम् कड़ी हो सकता था. उसके जिन्दा रहने से घोटाले के कई राज सामने आ सकते थे.  नाजिर की मौत के बाद लालू प्रसाद यादव और तेजस्वी यादव ने नितीश कुमार पर निशाना साधा.

लालू यादव ने ट्वीट कर लिखा,’ सृजन महाघोटाले में पहली मौत. 13 गिरफ़्तार उनमें से एक की मौत. मरने वाला भागलपुर में नीतीश की पार्टी के एक बहुत अमीर नेता का पिता था.’ लालू के अलवा तेजस्वी यादव ने भी ट्वीट कर इस घोटाले को व्यापम से भी व्यापक बताया. उन्होंने लिखा,’ सृजन घोटाले में गिरफ़्तार जदयू नेता के पिता व आरोपी नाज़िर महेश मंडल की देर रात जेल में विषम परिस्थितियों मे मौत.व्यापम से भी व्यापक है सृजन.’

बताते चले की सर्जन घोटाले को लेकर लालू और तेजस्वी पहले से ही हमलावर है. लालू ने सर्जन घोटाले में नितीश की भूमिका भी संदिग्ध बताते हुए रविवार को कई ट्वीट किये. उहोने लिखा की आखिर 2006 से चल रहे सर्जन घोटाले में नितीश ने 11 साल तक कोई कार्यवाही क्यों नही की. इस मामले में सीएम नितीश और वित्त मंत्री सुशील मोदी सीधे दोषी है. अगले ट्वीट में लालू ने लिखा,’ 2013 में सृजन घोटाले में जाँच का आदेश देने वाले जिलाधिकारी का मुख्यमंत्री नीतीश ने तबादला क्यों किया? किस बात का डर था?’

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?