ashok gehlot 2

जयपुर : राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को कहा कि कुछ लोग केवल राजनीतिक फायदे के लिए भारत माता की जय बोलते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा ने राम मंदिर मुद्दे का जैसे चुनावों में इस्तेमाल किया है, उसके लिए तो भगवान राम भी उन्हें माफ नहीं करेंगे।

गहलोत ने कहा,‘ किस हिंदुस्तानी को भारत माता की जय बोलने में संकोच होगा। लेकिन कई लोग राजनीतिक फायदे के लिए बोलते हैं कुछ दिल से बोलते हैं. वसुंधरा राजे उस जमात से संबंध रखती हैं जो राम का नाम लेती है तो (किंतु) चुनाव के लिए लेती है। चुनाव आते ही इनको राम याद आता है। इनको राम मिल भी गए तो वे इन्हें माफ नहीं करेंगे। इनको सजा वहीं देंगे।’

Loading...

गहलोत ने वसुंधरा राजे सरकार को शराब, भूमि एवं बजरी माफिया को संरक्षण देने वाली सरकार करार दिया और कहा कि उसके ‘कुशासन’ से आजिज आई जनता सात दिसंबर को मतदान के दिन उसे जवाब देगी। गहलोत ने दावा किया कि राज्य में कांग्रेस के पक्ष में जबरदस्त उत्साह है और पार्टी जोर शोर से सत्ता में आ रही है।

vasundhara raje 1493175600

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर हमला बोलते हुए कहा उन्होने कहा कि जिनके पास कानून व्यवस्था बनाए रखने का जिम्मा है, वहीं जनता के गिरेबान पकड़ने की बात करते हैं। यही हालात रहे तो ऐसे में देश और देशवासियों का क्या होगा? गहलोत ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्होंने चुनाव आयोग सहित देश की सभी स्वतंत्र और न्यायिक संस्थाएं कमजोर कर दीं।

उन्होंने कहा कि वसुंधरा राजे ने अपने मुख्यमंत्रित्व कार्यकाल में जनता से सीधा संबंध नहीं रखा। ऐसा करतीं तो उन्हें भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के आगे नतमस्तक नहीं होना पड़ता। गहलोत ने आदिवासी मतदाताओं को पूछते हुए कहा कि अपने शासनकाल में वसुंधरा कभी भी किसी सरकारी विश्रांतिगृह में रुकी। वे या तो महलों में रुकी या पंच सितारा होटलों में। जनता से हमेशा दूरियां बनाकर रहने वाली मुख्यमंत्री को अब पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह के सामने नतमस्तक होना पड़ रहा है।

गहलोत ने कहा कि वसुंधरा अहंकारी हैं, जनता के सामने नतमस्तक होना उन्हें गंवारा नहीं। गहलोत ने कहा कि वसुंधरा सरकार ने हमारी अधिकांश जनकल्याणकारी योजनाओं को बंद कर दिया, लेकिन हम किसी भी योजना को बंद नहीं करेंगे।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें