ऑल इंडिया युनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद मौलाना बदरुद्दीन अजमल कासमी ने गुजरात के उना में प्रदर्शन के दौरान दलितों पर हुए हमलें की निंदा करते हुए सरकार से मांग की है कि वह इस अपराध में शामिल लोगों के खिलाफ तत्काल कड़ी कार्रवाई करे.

उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक देश में हर एक को अधिकार है कि वे अपने अधिकारों की मांग के लिए प्रदर्शन कर सकता हैं. इसलिएउना में दलित प्रदर्शनकारियों पर हमला करने वाले दोषी हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने आगे कहा कि आज पूरे देश में दलित, मुस्लिम और कमजोर वर्ग से संबंधित लोगों से अलग अलग बहाने से हमले हो रहे हैं जो देश का माहौल बिगाड़ करके रख दिया है.  लोगों में डर और भय का माहौल पैदा हो गया है.

उन्होंने कथित गौरक्षकों के हमलों को लेकर कहा कि गौ रक्षा के नाम पर गुंडागर्दी हो रही है, और सरकार है कि केवल बयानबाजी पर संतोष कर रही है जिससे वे  चरमपंथी प्रेरित हो रहे है. आज देश की हाल यह है कि जो लोग रोटी के लिए तरस रहे हैं उनकी कोई चिंता नहीं है, लेकिन कौन क्या खा रहा है, क्या पहन रहा है और क्या सुन रहा इस पर खूब चर्चा हो रही है.

उन्होंने आगे कहा कि  जो लोग भड़काऊ बयानबाजी करके जहर उगल रहे हैं उनके खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं हो रही है मगर जो लोग लोकतांत्रिक तरीके से विरोध द्वारा अपनी मांग सरकार तक पहुंचा रहे हैं उन पर फायरिंग हो रही है, उनके खिलाफ कार्रवाई हो रही है और उन पर हमले हो रहे हैं

Loading...