कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने शुक्रवार को मोदी सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि ईसाइयों के साथ बीजेपी शासित राज्यों में भयावह बर्ताव किया जा रहा है.

उन्होंने कहा, ‘भाजपा वाले मेघालय आते हैं और ईसाइयों के साथ मीठी-मीठी बातें कर उन्हें बताते हैं कि भाजपा शासित राज्यों में ईसाइयों को सारी सुविधाएं दी जा रही हैं, उन्हें कोई दिक्कत नहीं होने दिया जा रहा है, लेकिन मुझे बहुत दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि उन राज्यों में ईसाइयों के साथ जो किया जा रहा है, वह बहुत ही भयावह है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कांग्रेस सांसद ने कहा कि इस सरकार के दो चेहरे हैं. मेघालय के लिए अलग चेहरा और बाकी राज्यों के लिए अलग. मेघालय में वे दोनों हाथ खोलकर ईसाइयों पर धन लुटाने की बात करते हैं और दिल्ली में गारो हिल्स में ईसाइयत की 150वीं वर्षगांठ मनाने के लिए बाहरी देशों से भारत आना चाह रहे लोगों को वीजा देने से मना किया जा रहा है.

उन्होंने हिंदुत्व आधारित संकीर्ण विचारों को प्रोत्साहन देने का आरोप लगाते हुए कहा कि ‘इस सरकार की ऐसी कोई उपलब्धि नहीं है, जिसे महसूस किया जा सके. वह भारत के स्वभाव को बदलने का प्रयास कर रही है, जो संभव नहीं है.  जिस भारत को बनाने में हमने 70 साल लगाए, उसे तहस-नहस किया जा रहा है. यह देश सभी तरह के लोगों का है, सभी धर्मो, जातियों और संस्कृतियों का है. इस सामंजस्य वाले भारत के माहौल को बिगाड़ने की हिम्मत एनडीए की पिछली सरकार भी नहीं कर पाई थी.’

थरूर ने कहा, ‘यहां भाजपा के लोग कहते हैं, आप जो खाना चाहें, खा सकते हैं, लेकिन दूसरे राज्यों में बीफ खाने के शक पर इंसान को मार दिया जाता है.’

Loading...