Friday, October 22, 2021

 

 

 

शिवसेना ने यूपी निकाय चुनाव में ईवीएम के इस्तेमाल पर उठाए सवाल कहा, मेयर वही बनेगा जिसे ईवीएम चाहेगी

- Advertisement -
- Advertisement -

मुंबई । केंद्र और महाराष्ट्र सरकार में भाजपा की सहयोगी पार्टी शिवसेना , लगातार भाजपा पर निशाना साध रही है। कभी मोदी सरकार की आर्थिक नीतियो को लेकर तभी गुजरात में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर। शिवसेना लगातार भाजपा को नीचा दिखाने की कोशिश कर रही है। इसी कड़ी में उन्होंने यूपी में हुए निकाय चुनाव के बहाने भाजपा की  कई राज्यों में हुई जीत पर भी सवाल खड़े कर दिए है।

शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में ईवीएम के इस्तेमाल पर सवाल उठाते हुए कहा की यूपी निकाय चुनावों में कई जगहों पर यह मामला सामने आया है की किसी भी पार्टी का बटन के दबाने पर वोट भाजपा को चला गया। इसलिए अब लोकतंत्र में मतदाताओं को कोई रोल नही रह गया। मेयर तो वो ही बनेगा जिसे ईवीएम चाहेगी। मुखपत्र में लिखे सम्पादकीय के ज़रिए शिवसेना ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर भी निशाना साधा।

उन्होंने लिखा,’ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जब ईवीएम स्पर्श कर मतदान कर बाहर आते है तब ऐसा दावा करते है जैसे भगवान के चरणस्पर्श आशीर्वाद लेकर लौटे हों और जनता को दावे के साथ कहते है, जितेगी तो भाजपा ही।’ शिवसेना ने आगामी गुजरात चुनावो पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा की यूपी निकाय चुनावों के नतीजों का असर गुजरात में देखने को मिलेगा। इसलिए गंदी राजनीति तो करनी ही पड़ेगी।

ईवीएम पर सवाल उठाते हुए शिवसेना ने लिखा,’ आमतौर पर होता तो यह है कि मतदान के बाद क्षेत्र में चाय पर चर्चाएं यह होती थी कि फलां बोर्ड पर किसका कब्जा होगा, कौन मेयर बनेगा आदि इत्यादि। लेकिन कल यूपी में चर्चाओं का विषय कुछ और था। लोगों को मतदाताओं के रुख से ज्यादा ईवीएम के रुख का डर सता रहा था। लिहाजा चर्चा यह आम थी कि ईवीएम इन दिनों जो नतीजे उगलती है तो सिर्फ अपने मिजाज से।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles