करकरे की शहादत का अपमान करने वाली प्रज्ञा ठाकुर को शिवराज ने बताया ‘भारत की निर्दोष बेटी’

9:15 pm Published by:-Hindi News
shivraj singh chouhan 1121

2008 मालेगांव बम धमाके की आरोपी और 26/11 के हमले में आतंकियों के हाथो शहीद होने वाले हेमंत करकरे की शहादत का अपमान करने वाली प्रज्ञा ठाकुर के समर्थन में अब मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के नेता शिवराज सिंह चौहान खुलकर आए है।

उन्होने कहा कि साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ‘राष्ट्रभक्त’ और ‘देश की निर्दोष बेटी’ हैं। वहीं, पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने भी एक प्रेस-कॉन्फ्रेंस में भोपाल से ठाकुर को उम्मीदवार बनाए जाने के निर्णय को सही करार दिया। एनडीटीवी के साथ बातचीत में शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रज्ञा ठाकुर को साजिश के तहत फंसाया गया।

न्होंने कहा, “उन्हें आरोपी बनाने के लिए कानून का ग़लत इस्तेमाल किया गया। उनके साथ अमानवीय व्यवहार किया गया।” चौहान ने कहा कि कांग्रेस द्वारा ‘हिंदू आतंक’ का झूठा शोर किया गया और इसेक मास्टरमाइंड दिग्विजय सिंह थे। गौरतलब है कि दिग्विजय सिंह भोपाल से ही कांग्रेस के प्रत्याशी हैं और उनकी आमने-सामने की लड़ाई साध्वी प्रज्ञा से ही है।

न्यूज चैनल के साथ बातचीत में शिवराज सिंह चौहान ने साध्वी प्रज्ञा की तुलना महाभारत की दौपदी से की। उन्होंने कहा, “यह वही देश है जहां द्रौपदी के साथ हुए दुर्व्यवहार के कारण महाभारत हुआ। जो कुछ भी साध्वी प्रज्ञा के साथ हुआ उसे लोग स्वीकार नहीं करेंगे।”

बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने भी साफ कर दिया है कि साध्वी प्रज्ञा के मामले में वह विरोधियों के हमलों का जवाब आक्रामक होकर ही देंगे। पश्चिम बंगाल में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमित शाह ने प्रज्ञा को ‘पीड़ित’ बताया और आरोप लगाए कि यूपीए के शासनकाल में असली गुनहगारों को छोड़ दिया गया।

बता दें कि  साध्वी प्रज्ञा ने मुंबई हमले के शहीद हेमंत करकरे के बारे में कहा था कि मैंने करकरे को सर्वनाश होने का शाप दिया था और इसके सवा माह बाद आतंकवादियों ने उन्हें मार दिया। उन्होने कहा था, ‘हेमंत करकरे मुझे यातनाएं देते थे। मुझसे कुछ भी पूछते थे। मैंने कहा कि तेरे सर्वनाश होगा और ठीक सवा महीने बाद आतंकियों ने मार दिया।  जिस दिन मैं गई थी उस दिन सूतक लग गया था।’

Loading...