मध्य प्रदेश में कथित लव जिहाद विरोधी विधेयक ‘धर्म स्वातंत्र्य विधेयक 2020’ को शिवराज केबिनेट ने शनिवार सुबह मंजूरी दे दी है।

गृह मंत्री ने बताया कि कानून में बलपूर्वक धर्म परिवर्तन के मामलों में 1-5 साल तक के कारावास और कम से कम 25 हूजार रुपए जुर्माने का प्रावधान किया गया है। महिला, नाबालिग और एससी-एसटी के धर्म परिवर्तन के मामलों में दोषियों को 2 से 10 साल तक की जेल के अलावा 50 हजार रुपए का जुर्माने दोषियों को देना होगा।

कानून के तहत अपनी मर्जी से धर्म परिवर्तन के लिए संबंधित जिले के कलेक्टर को एक महीने पहले आवेदन देना होगा। धर्मांतरण कर शादी करने के लिए कलेक्टर के पास आवेदन देना अनिवार्य होगा। बिना आवेदन के अगर धर्मांतरण किया गया तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।

इस विधेयक को लेकर कांग्रेस नेता ने दिग्विजय सिंह ने भाजपा नेताओं पर जमकर निशाना साधा। राजगढ़ में एक सभा में बोलते हुए दिग्विजय ने कहा कि भाजपा के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी व भाजपा नेता शहनवाज हुसैन कौन है और उनकी पत्नी हिन्दू है, इन पर लव जिहाद कानून लागू होगा क्या? वो अपराधी नहीं है क्या?

उन्होने कहा, कोई हिन्दू लड़का मुस्लिम लड़की घर में ले आएगा तो उस पर भी लव जिहाद बनेगा ? इस प्रश्न का कोई उत्तर नहीं देता, कहते है दिग्विजय सिंह उल्टी सीधी बातें करता है। मोदी जी से कोई प्रश्न पूछले तो वो राष्ट्र द्रोही। इस पूरे देश मे मोदी शाह के जोड़े ने अमीर को और अमीर कर दिया, गरीब और गरीब होते जा रहे है।

Loading...
विज्ञापन