अयोध्या में बाबरी मस्जिद-राम मंदिर मामले देश की सर्व्वोच अदालत में लंबित है. फैसला आने से पहले ही शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट को चुनौती देते हुए फैसला न मानने की बात कही है.

शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर की मांग कर रहे लोग बाबरी मस्जिद विवाद पर कोर्ट के फैसले को स्वीकार नहीं करेंगे. उन्होंने कहा कि हमने राम मंदिर आंदोलन कोर्ट से पूछकर नहीं चलाई थी.

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत के दौरान शिवसेना के नेता रावत ने कहा कि हम कोर्ट को इस मामले (राम मंदिर मामले) में नहीं मानते हैं, कोर्ट से पूछकर आंदोलन नहीं चलाई थी.

उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र में मोदी और प्रदेश में योगी सरकार है, अब राममंदिर नहीं बनेगा तो कब बनेगा.अब कानून की लड़ाई बंद कर सरकार को मंदिर बनाने का मार्ग प्रशस्त करना चाहिए.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें