30 11 2018 suresh prabhu 18699581

भाजपा की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने मुस्लिमों को आरक्षण देने की मांग की है। पार्टी नेता सुनील प्रभु ने कहा कि जो पिछड़े हुए घटक हैं, चाहे वो मुस्लिम क्यों न हों, उन्हें आरक्षण देना चाहिए।

महाराष्ट्र में मराठा समुदाय को 16 फीसदी आरक्षण दिए जाने के बाद अब मुस्लिम आरक्षण की मांग ने ज़ोर पकड़ लिया है। दरअसल, एआईएमआईएम नेता इम्तियाज जलील ने कहा है कि हम सरकार के मराठा आरक्षण के फैसले को चुनौती नहीं देंगे, लेकिन हम नए तथ्यों के साथ कोर्ट जाएंगे और मुस्लिम आरक्षण के लिए मांग करेंगे।

Loading...

इस मामले में शिवसेना नेता का कहना है कि मुस्लिमों को काम मिलना चाहिए, न्याय मिलना चाहिए। शिवसेना हमेशा अन्याय के खिलाफ लड़ने वाली है।

प्रभु ने कहा कि पार्टी समाज के दबे कुचले लोगों को न्याय दिलाने के लिए आवाज उठाएगी। उन्होंने कहा कि मैंने सदन में सवाल भी किया था कि मुस्लिमों के आरक्षण के लिए क्या कदम उठाए गए हैं।

उन्होंने कहा कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने साफ कर दिया था जितने भी दबे कुचले लोग हैं उनको आरक्षण दिया जाएगा, चाहे वो किसी भी पिछड़े समाज के हों, चाहे वो मुस्लिम ही क्यों न हों। उन्होंने कहा कि हम अन्याय के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं और आगे भी लड़ते रहेंगे।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें