Friday, June 25, 2021

 

 

 

अजान विवाद पर शिवसेना ने केंद्र से मस्जिदों में लाउडस्पीकर बैन करने को कहा

- Advertisement -
- Advertisement -

मुंबई: शिवसेना ने केंद्र से ध्वनि प्रदूषण को रोकने के लिए मस्जिदों में लाउडस्पीकर के इस्तेमाल को रोकने के लिए कदम उठाने को कहा है। सेना के मुखपत्र “सामना” के संपादकीय में कहा गया है कि यह मुद्दा ध्वनि प्रदूषण और पर्यावरण संरक्षण का है।

सामना में कहा गया कि “केंद्र को ध्वनि प्रदूषण को रोकने के लिए मस्जिदों पर लाउडस्पीकर के प्रयोग को बैन करने के लिए एक अध्यादेश लाना चाहिए।” शिवसेना का ये बयान अजान प्रतियोगिता को लेकर जारी बहस के बीच सामने आया है।

दरअसल मुस्लिम बच्चों के लिए शिवसेना के दक्षिण मुंबई विभाग प्रमुख पांडुरंग सकपाल ने अजान पठन स्पर्धा के आयोजन की तैयारी की थी। संपादकीय में कहा गया है कि “अज़ान” पर शिवसेना के नेताओं की भाजपा की आलोचना दिल्ली सीमाओं पर आंदोलनरत किसानों (नए कृषि कानूनों के खिलाफ) को “पाकिस्तानी आतंकवादी” बताने के समान थी।

आगे कहा गया, “इन लोगों से क्या उम्मीद है जो किसानों को आतंकवादी कहते हैं। ट्रोल्स का कहना है कि शिवसेना ने हिंदुत्व छोड़ दिया है, लेकिन ईद के गलने मिलने वाली उनकी (भाजपा नेताओं की) तस्वीरें प्रकाशित की जाती हैं।“

उन्होंने कहा, “हम इसका राजनीतिकरण नहीं करना चाहते हैं क्योंकि देश के 22 करोड़ मुसलमान भारतीय नागरिक हैं।” गाय को लेकर बीजेपी को घेरते हुए सामना में कहा गया, भले ही गोहत्या के खिलाफ कानून पारित किया गया है। लेकिन इसकी बिक्री, खरीद और खपत भाजपा शासित राज्यों में गोवा के उत्तर पूर्व में कानूनी है।

संपादकीय ने पूछा, “अगर यह वोटों के लिए तुष्टिकरण नहीं है, तो यह क्या है?”

शिवसेना नेता सकपाल का बचाव करते हुए, संपादकीय में कहा गया है कि उन्होंने केवल एक मुस्लिम फाउंडेशन को ऑनलाइन “अज़ान” प्रतियोगिता आयोजित करने का सुझाव दिया था ताकि लोग बाहर भीड़ न हों।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles