देशद्रोह मामले में शेहला राशिद को कोर्ट से बड़ी राहत, गिरफ्तारी से…..

11:50 am Published by:-Hindi News

दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने कश्मीर की युवा नेता शेहला रशीद को अंतरिम राहत दी है. राजद्रोह मामले में कोर्ट ने शेहला की गिरफ्तारी पर अंतरिम रोक लगा दी है. उनके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के एक वकील ने एफआईआर दर्ज करवाई थी.

शेहला राशिद पर जम्मू-कश्मीर को लेकर सेना के खिलाफ झूठे, विसंगत, राष्ट्रविरोधी ट्वीट्स करने और फर्जी खबरें फैलाने का आरोप है। बीते शुक्रवार शाम तक शेहला राशिद को गिरफ्तार नहीं किया गया था. स्पेशल सेल के पुलिस अधिकारियों का कहना है कि जांच के लिए बाद ही गिरफ्तारी होगी.

डीसीपी मनीषी चंद्रा ने बताया कि शेहला के खिलाफ आईपीसी की धारा 124ए (देशद्रोह), 153ए (धर्म व भाषा के आधार पर नफरत फैलाना), 153 (उपद्रव फैलाने के आशय से कोई काम करना), 504 (शांति भंग करने के आशय से काम करना) और 505 (अफवाह फैलाना) के तहत 3 सितंबर को मामला दर्ज किया गया है।

दरअसल, अपने सिलसिलेवार ट्वीट में रशीद ने दावा किया था कि सेना घाटी में अंधाधुंध तरीके से लोगों को उठा रही है, घरों में छापे मार रही है और लोगों को प्रताड़ित कर रही है.  उन्होंने दावा किया था कि घाटी में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेरी) के एजेंडे को पूरा करने के लिए मानवाधिकारों का हनन किया जा रहा है.

हालांकि विवाद बढ़ने पर उन्होने कहा था कि जब भारतीय सेना जांच गठित करेगी तो वह सबूत देने के लिए तैयार हैं. भारतीय सेना ने रशीद के दावों को खारिज कर दिया था और इसे ‘बेबुनियाद’ और ‘असत्यापित’ बताया था. सेना की ओर से उनके दावों को खारिज करने के बाद, कई लोगों ने रशीद पर कश्मीर में शांति भंग करने के लिए फर्जी खबर फैलाने का आरोप लगाया.

Loading...