shatru

सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर सियासी घमासान जारी है। अब बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने इस मामले मे अपनी ही पार्टी को कठघरे मे खड़ा करते हुए सवाल उठाया कि सर्जिकल स्ट्राइक को इस तरह से प्रचारित करना ख़ुद को सर्टिफिकेट देने जैसा है।

एनडीटीवी से बातचीत में उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक का इतना प्रचार प्रसार क्यों किया जा रहा है। इस तरह की कार्रवाई तो पहले भी की जाती रही है। सर्जिकल स्ट्राइक तो रणनीति का हिस्सा रहे हैं।

सिन्हा ने कहा कि जब सेना की ओर से बयान जारी कर दिया गया है कि सर्जिकल स्ट्राइक हुई तो फिर बात वहीं खत्म हो जानी चाहिये। लेकिन इसको लेकर इतनी राजनीति क्यों की जा रही है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

indiatv5e5408 indira sanjay

उन्होने कहा कि 1971 में जब इंदिरा गांधी ने बांग्लादेश बना दिया तब तो इतने पोस्टर बैनर नहीं लगाये गये थे। वाजपेयी जी के जमाने में भी सर्जिकल स्ट्राइक हुई थी। ये तो राष्ट्रीय हित की बात है। इसके लिये सेना को सलाम।

बता दे कि हाल ही मे सितंबर 2016 मे भारतीय सेना द्वारा पाक अधिकृत कश्मीर (POK) में आतंकियों के ठिकानों को सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए खत्म करने का वीडियो जारी हुआ है। सर्जिकल स्ट्राइक के 636 दिनों के बाद अब एक वीडियो भी सामने आया है।

Loading...