राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के भैया जी जोशी के द्वारा अयोध्या विवाद पर दिए गए बयान पर ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने पलटवार किया है। ओवैसी ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट हिंदू भावना के आधार पर फैसला नहीं दे सकता है।

ओवैसी ने कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट हिंदू भावना के आधार पर फैसला नहीं ले सकता है। वह (आरएसएस) इस बात को मानने को तैयार नहीं कि यहां सविधान नाम भी एक चीज है। आस्था, भावना वगैरह यहां प्रासंगिक नहीं है बल्कि केवल इंसाफ होना चाहिए।’

बता दें कि आज आरएसएस के भैया जी जोशी कहा कि हम चाहते हैं कि अयोध्या में राम मंदिर बने, इस काम में कुछ बाधाएं जरूर हैं, लेकिन हम अपेक्षा करते हैं कि कोर्ट हिंदू भावनाओं को ध्यान में रख कर निर्णय देगा। वहीं संघ ने राम मंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश की मांग फिर से दोहराई है।
संघ ने कहा कि अगर जरूरी हुआ तो वह राम मंदिर के लिए 1992 जैसा आंदोलन भी करेगा। संघ ने कहा कि सुनवाई के दौरान शीर्ष अदालत द्वारा यह कहे जाने पर कि हमारी प्राथमिकताएं अलग हैं, इसे हिंदू समाज अपमानित महसूस कर रहा है।
Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें