शिवसेना नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पीएमसी बैंक धनशोधन मामले में पूछताछ के लिए 29 दिसंबर को तलब किया है। इस पर संजय राउत ने केंद्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि वह इस तरह की चीजों से डरने वाले नहीं हैं।

संजय राउत ने कहा कि मुझसे पंगा मत लेना मैं नंगा आदमी हूं और शिवसैनिक हूं। मेरे पास भाजपा की फ़ाइल है, अगर उसे निकाला तो आपको देश से छोड़कर भागना पड़ेगा। मेरे पास 121 लोगों के नाम हैं। जल्द ही ईडी को दूँगा। इतने नाम हैं कि 5 साल ईडी को काम करना पड़ेगा। तब ईडी को पता चलेगा कि किससे पंगा लिया है।

राउत ने कहा, ‘‘बीजेपी के कुछ नेता पिछले एक साल से मुझसे संपर्क कर कह रहे हैं कि उन्होंने महाराष्ट्र सरकार को अस्थिर करने के लिए सारे इंतजाम कर लिए हैं। सरकार का समर्थन नहीं करने के लिए वे मुझपर दबाव बना रहे हैं और धमका रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने (बीजेपी नेताओं ने) मुझसे कहा कि उनके पास कांग्रेस और एनसीपी के 22 विधायकों की सूची है जो कि केंद्रीय जांच एजेंसियों के दबाव में इस्तीफा दे देंगे।’’

शिवसेना सांसद ने कहा ,”ईडी, सीबीआई (केंद्रीय जांच ब्यूरो) या आयकर विभाग का महत्व कम हो रहा है। इससे पहले, जब ईडी कोई कार्रवाई करती थी तो ऐसा लगता था कि कुछ गंभीर था। लेकिन पिछले कुछ सालों से इसकी कार्रवाई से लगता है कि एजेंसी तब काम करती है जब बीजेपी अपना गुस्सा निकाल रही हो। ”

संजय राउत ने कहा कि यह सब राजनीति से प्रेरित है। 10 साल पुराना केस निकाला है ईडी ने। हम मिडल क्लास के लोग है। मेरी पत्नी टीचर है। पत्नी से दोस्त से 50 लाख का कर्ज लिया था। राज्यसभा के हलफनामे में इसका जिक्र है। इनकम टैक्स में भी यह दिखाया गया है। यह छिपाई हुई बात नहीं है। इससे ईडी और बीजेपी को क्या तकलीफ है। इस देश में बीजेपी के लिए बड़े-बड़े सूरमा बैठे हैं। अगर मैं उनके परिवार तक पहुंचा तो उन्हें देश छोड़कर भागना होगा।

वहीं दक्षिण मुंबई के ईडी कार्यालय के बाहर शिवसैनिकों ने पोस्टर लगाकर विरोध जताया है। शिवसैनिकों ने ईडी कार्यालय को भाजपा कार्यालय बताने वाला पोस्टर लगाया है। जिसपर लिखा भाजपा कार्यालय।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano