सरधना | सरधना से बीजेपी विधायक और मुजफ्फरनगर दंगो के आरोपी संगीत सोम आगामी विधानसभा चुनावो से पहले एक बार फिर सुर्खियों में है. चुनाव प्रचार के दौरान संगीत सोम की एक विडियो सीडी प्रशासन ने जब्त की है जिसमे वो मुजफ्फरनगर दंगो, कैराना हिन्दू पलायन और बिसेहेडा में अख़लाक़ की हत्या का जिक्र कर रहे है. इन मुद्दों को उठाकर संगीत सोम लोगो से अपील कर रहे है की वो चुनावो में बिना बंटे बीजेपी को वोट दे.

प्रशासन ने उस प्रचार वाहन को भी जब्त कर लिए है जिसमे ये विडियो चलायी जा रही थी. लोगो की धार्मिक भावना भड़काने के आरोप में प्रशासन ने उनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. इसके अलावा चुनाव आयोग ने भी संगीत सोम को नोटिस भेजा है. इतना सब होने के बाद भी संगीत सोम अपनी भड़काऊ भाषण जारी रखे हुए है. गुरुवार को भी उन्होंने एक जनसभा को संबोधित करते हुए भड़काऊ भाषण दिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने लोगो को मुजफ्फरनगर दंगे की याद दिलाते हुए कहा की इन दंगो में सैकड़ो बेगुनाहों को पुलिस ने गिरफ्तार किया. वो आज भी जेल में है. मैं जब भी उनसे मिलने जाता हूँ वो मुझे देखकर रोते है और पूछते है की हमारा क्या कसूर है? लेकिन हमारे मुख्यमंत्री जी के पास इसका कोई जवाब नही है. हमारे मुख्यमंत्री जी कहते है की हमने कब्रिस्तानो की चारदिवारी करवाई, आप करवाए मुख्यमंत्री जी लेकिन शमशान घाट और रामलीला मैदान की भी चारदिवारी करा दो.

सोम ने आगे कहा की मैं अपना सर कटा सकता हूँ, अपनी जान दे सकता हूँ लेकिन किसी के आगे झुक नही सकता , अगर आप 11 तारीख को बंट गए तो सरधना का विधायक एक ऐसा आदमी बन जाएगा जो आपको आपके घर में भी घुसने नही देगा. जनसभा के बाद पत्रकारों से बात करते हुए संगीत सोम ने कहा की मैं डंके की चोट पर कहना चाहता हूँ की चुनावो में मुजफ्फरनगर दंगा और कैराना हिन्दू पलायन मुद्दा बनेगा. हमारे लिए यह मुद्दा है. जनसभा के बयान पर सफाई देते हुए सोम ने कहा की किसी के आगे नही झुकना भड़काऊ कैसे हो सकता है.

Loading...