नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (आरएसएस) पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि संघ-भाजपा के लोग धार्मिक जगहों पर गुप्त रूप से मांस फेंककर दंगे भड़काना चाहते हैं.

Loading...

बनर्जी ने झारग्राम में आयोजित प्रशासनिक बैठक में कहा, ‘उन लोगों ने हाल में नई साजिश को शुरू किया है. वे लोग कुछ लोगों को पैसे दे रहे हैं और उन्हें मंदिर और मस्जिद में मांस फेंकने के लिए कह रहे हैं. यह एक साजिश है, बीजेपी और आरएसएस द्वारा जानबूझकर सांप्रदायिक दंगा फैलाने का प्रयास है.’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘वे लोग दो समुदायों में दंगा शुरू करवाने के लिए ऐसा कर रहे हैं. मैं निश्चिंत हूं कि वे लोग रामनवमी में इसी तरह की ट्रिक अजमाने की कोशिश करेंगे. मुझे यह देखने की जरूरत नहीं है कि कौन हिंदू है कौन मुसलमान है. मैं सभी के पक्ष में हूं. एक अपराधी एक अपराधी है.’

उन्होंने आगे कहा, ”हमने 24 परगना जिले में दो जगहों पर ऐसी घटनाएं देखीं. कुछ बीजेपी और आरएसएस के कार्यकर्ताओं को हाबड़ा की घटना के चलते गिरफ्तार किया गया था. यही कारण हैं कि हम उनके नाम ले रहे हैं. अगर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता गिरफ्तार किए गए होते तो मैं उनका नाम भी लेती.”

बनर्जी ने कहा कि स्थानीय लोगों को शामिल करो. अगर कोई ऐसे अपराधियों को पकड़ता है तो उन्हें 1000 हजार रुपये दो. अगर कोई इस तरह की घटनाओं को सफलतापूर्वक रोकता है तो मैं कुछ लोगों रोजगार प्रदान करूंगी और अन्य को पैसे दूंगी.

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें