Thursday, October 21, 2021

 

 

 

शाहीन बाग वाली दादी को संबित पात्रा ने बताया दंगों का प्रतीक, दुनिया के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों में है शामिल

- Advertisement -
- Advertisement -

दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध का चेहरा बनी शाहीन बाग की दादियों में से एक, ‘बिलकिस’ को दुनिया की 100 सबसे प्रभावशाली शख्सियतों में शुमार किया गया है तो दूसरी और भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने बिल्किस को दंगों का प्रतीक करार दिया।

उल्लेखनीय है कि अंतरराष्ट्रीय मैगजीन ‘टाइम’ ने अपने 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की लिस्ट में 82 साल की बुजुर्ग दादी- बिल्किस को जगह दी है। टाइम की इस साल की 100 प्रभावशाली लोगों की सूची में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी जगह दी गई है। पीएम मोदी के अलावा, इस लिस्ट में अभिनेता आयुष्मान खुराना, शाहीन बाग आंदोलन से सुर्खियों में आईं बिलकिस दादी और गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई शामिल हैं।

इस पर भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, “टाइम मैगजीन, वॉशिंगटन पोस्ट और न्यूयॉर्क टाइम्स का सवाल है, तो ये सब लेफ्ट की तरफ झुकाव रखते हैं, ये पूरी दुनिया जानती है। वॉशिंगटन पोस्ट ने तो अबु बकर अल-बगदादी तक की तारीफ करते हैं। दादी की बात हो रही है, तो मैं उन्हें आतंकवादी नहीं कहूंगा, लेकिन दादी तो जानती भी नहीं होंगी कि सीएए का फुलफॉर्म क्या है। वे जानती नहीं होंगी कि सीएए का अर्थ क्या है।”

संबित ने आगे कहा, “जिस प्रकार 500 रुपए और बिरयानी के लिए लोगों को जिस तरह भड़काया गया और दिल्ली में उन्मादी दंगे फैलाए गए, वो पूरे विश्व ने देखा है। इसलिए अगर दादी को ग्लोरिफाई किया जा रहा है, तो इसमें दादी का दोष नहीं है। दादी के लिए जिन लोगों ने लेख लिखा है। राणा अयूब जिन्होंने लिखा है कि दादी सिंबल ऑफ रजिस्टेंट (विरोध का प्रतीक) है, नहीं वे दंगों की प्रतीक हैं। शाहीन बाग अगर किसी का प्रतीक है तो वो हैं दंगे।”

बता दें कि बिल्किस दादी के नाम से मशहूर बिल्किस बानो उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर की रहने वाली हैं, लेकिन वे फिलहाल अपने बच्चों के साथ दिल्ली में रह रही हैं। उनके पति खेती मजदूरी किया करते थे जो अब इस दुनिया में नहीं हैं। बिल्किस ने प्रदर्शनों कहा था कि जब तक सीएए को सरकार वापस नहीं ले लेती, तब तक वे नहीं हटेंगी। उन्होंने कहा था, “वे हमें गद्दार बुलाते हैं। जब हम ब्रिटिशों को देश से बाहर निकाल चुके हैं, तो नरेंद्र मोदी और अमित शाह कौन हैं? आप सीएए और एनआरसी हटा लें, तो हम जगह को बिना समय व्यतीत किए खाली कर देंगे।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles