दिल्ली में हुई मुस्लिम विरोधी हिंसा में अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद का नाम चार्जशीट में सामने आया है। उन पर भड़काऊ भाषण देने का आरोप है। ऐसे में अब सलमान खुर्शीद ने कहा कि अगर मैंने भड़काने वाला भाषण दिया तो मेरे खिलाफ कर्रवाई क्यों नहीं की।

सलमान खुर्शीद ने कहा कि पुलिस ने दंगा भड़काने का इल्जाम नहीं लगाया है, बल्कि किसी आरोपी के बयान के आधार पर नाम जोड़ा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस बताए क्या भाषण दिया और रिकॉर्डिंग है तो दिखाए। भड़काने वाला भाषण दिया तो मेरे खिलाफ कर्रवाई क्यों नहीं की, मुझे आरोपी क्यों नहीं बनाया।

उन्होने कहा, दिल्ली पुलिस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि जब मुझे आरोपी नहीं बनाया तो मुझे बदनाम क्यों कर रहे हैं। जिस आरोपी के बयान पर पुलिस नाम ले रही है उसे जेल से छोड़ दे, उसकी जगह मुझे जेल में डाल दे। क्‍या केंद्र सरकार को निशाना बनाने पर पुलिस कार्रवाई कर रही है। इस पर सलमान खुर्शीद ने कहा कि यह जहालत, कूड़ा, बेवकूफी है, इससे ज्यादा और क्या भड़का सकता हूं। पुलिस ने कूड़ा जमा किया है, इसे साफ कौन करेगा।

वहीं कांग्रेस महासचिव मुकुल वासनिक ने पुलिस चार्जशीट में सलमान खुर्शीद का नाम शामिल होने पर इसे भद्दा मजाक बताया। उन्होंने कहा कि दिल्ली दंगों में पुलिस द्वारा दाखिल नवीन चार्जशीट में सलमान खुर्शीद का नाम शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी नेताओं द्वारा पूरे देश में भड़काऊ भाषण दिए गए,लेकिन उनका नाम कहीं नहीं लिया गया।

इसके अलावा कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा कि पूर्व में विदेश मंत्री और कानून मंत्री का पद संभाल चुके सलमान खुर्शीद सबसे अच्छे, सज्जन, विद्वान, राष्ट्रवादी, धर्मनिरपेक्ष भारतीयों में से एक हैं, जिन्हें मैंने अब तक जाना है। ऐसे में दिल्ली पुलिस द्वारा अपने आरोप पत्र में उनका नाम लिखना चौकाना वाला है। उन्होंनें आरोप लगाते हुए कहा कि यह सब अपने आकाओं को खुश करने के लिए किया जा रहा है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano