साक्षी महाराज द्वारा कब्रिस्तान को लेकर मुस्लिमों के खिलाफ दिए गए बयान को लेकर उनका विरोध होना शुरू हो गया हैं.  RJD प्रमुख लालू प्रसाद यादव और सीपीआई नेता डी राजा ने उनके बयान की आलोचना करते हुए उनके खिलाफ कारवाई की मांग की हैं.

RJD प्रमुख लालू ने कहा, ‘साक्षी महाराज विवादत नेता रहे हैं और उनके इस बयान पर कार्रवाई होनी चाहिए.’ सीपीआई नेता डी राजा ने कहा, ‘साक्षी महाराज का बयान सांप्रदायिक और मुस्लिमों के खिलाफ भड़काने वाला है. चुनाव आयोग को इस मामले में कार्रवाई करनी चाहिए. वह पहले भी ऐसे बयान देते रहे हैं. पीएम मोदी देश के संविधान को बनाए रखने में असफल रहे हैं. वह बीजेपी नेताओं पर लगाम भी नहीं रख पा रहे हैं.’

याद रहे साक्षी महाराज ने देश में कब्रिस्तानों का विरोध करते हुए कहा कि मुसलमानों को देश में कब्रिस्तान ही नही बनाने देना चाहिए. उनका भी हिन्दुओं की तरह दाह संस्कार करना चाहिए.

उन्होंने कहा, कब्रिस्तान से जगह की बर्बादी होती है इस लिए मुसलमानों को अंतिम संस्कार के रूप में जलाना चाहिए. चाहे नाम कब्रिस्तान हो या श्मशान हो, दाह होना चाहिए. किसी को गाड़ने की आवश्यकता नहीं है. पांच करोड़ साधू हैं सबकी समाधि लगे तो कितनी जमीन जाएगी. 20 करोड़ मुस्लिम हैं सबको कब्र चाहिए इसके लिए हिंदुस्तान में जगह कहां मिलेगी.

साक्षी महाराज ने कहा, ‘‘मैं मोदी से निवेदन करना चाहता हूँ कि श्मशान एक हो, वही श्मशान जन्नत तक ले जाए, वही श्मशान मोक्ष द्वार तक ले जाए.” उन्होंने कहा कि राजनीतिक लोग बाहर हिन्दू, मुसलमान, सिख, ईसाई को इकठ्ठा नहीं होने देते लेकिन श्मशान में तो इकठ्ठा होने दें.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें