साध्वी प्रज्ञा को मालेंगंव ब्लास्ट मामलें में मिली जमानत को लेकर कांग्रेस ने कहा कि साध्वी को बीजेपी से रिश्तों के चलते जमनात मिली हैं. अब बीजेपी एक आतंकी को निर्दोष साबित करने में लगी हुई हैं.

कांग्रेस नेता राजू वाघमारे ने कहा है कि केंद्र सरकार के अधीन NIA ने इस केस में अपराधी को जमानत दिलवाने के लिए पैरवी की है. इतना ही नही सरकारी वकील रोहिणी सालियन ने खुद बयान देकर कहा था कि NIA उनपर दवाब डाल रही है.

वागमारे ने कहा कि कांग्रेस ने किसी के खिलाफ कोई साजिश नहीं की है मालेगांव बम ब्लास्ट केस में साध्वी की हर पैतरेबाज़ी इस्तेमाल की थी लेकिन कोर्ट ने जमानत नही दी थी अब चुकि NIA और सरकारी वकील साध्वी पर अपराध साबित करने के बजाय जमानत के लिए पैरवी कर रहे है तभी प्रज्ञा को जमानत मिली है.

वागमारे ने कहा कि साध्वी जमानत मिलने पर अपने को कोर्ट द्वारा निर्दोष घोषित किये जैसा प्रचारित करवा रही है साध्वी को धैर्य के साथ कोर्ट के फैसले का इंतज़ार करना चाहिए. वागमारे ने कहा कि साध्वी एक अपराधी है और उसे सज़ा भी मिलेगी.

कांग्रेस नेता सुरेंदर राजपूत ने भी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पर निशाना साधा है ,उन्होंने कहा है कि ये तो जांच एजेंसी का कार्य होता है आरोपी के खिलाफ पैरवी करना लेकिन बीजेपी सरकार ने तो संविधान की मर्यादा को भी खत्म करके साध्वी के लिए सरकारी वकील से पैरवी करवाई

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें