लखनऊ में शुक्रवार रात मल्टिनैशनल कंपनी में एरिया मैनेजर विवेक तिवारी के साथ यूपी पुलिस के हाथों हुए शूटआउट मामले में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि यूपी में कानून का नहीं बल्कि बंदूक का राज चल रहा है।

एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ‘यह एक हत्या है। कानून का राज राज्य से गायब दिख रहा है। बंदूक का राज वहां पर मौजूद है। शासन नाम की कोई चीज ही नहीं है यूपी में।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इससे पहले समाजवादी पार्टी (एसपी) के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी मृतक विवेक तिवारी के परिवार से मिलने उनके आवास पहुंचे। जहां पर उन्होंने परिजनों से बातचीत कर उन्हें ढांढस बंधाया। इस दौरान उन्होने कहा कि मैं परिवार के लोगों से मिला। वे सदमे में हैं।

अखिलेश यादव ने कहा कि हत्या जरूर पुलिस के हाथों हुई है, लेकिन इसके लिए योगी सरकार जिम्मेदार है। सरकार इसलिए जिम्मेदार है, क्योंकि सत्ता में बैठे लोग ऐसी भाषा बोल रहे हैं। सरकार की इस सोच के चलते लगातार निर्दोष लोग मारे जा रहे हैं। ऐसी घटनाओं के लिए लोकतंत्र में एक ही सजा है कि सरकार को बर्खास्त कर दिया जाए।

उन्होंने कहा कि सरकार का खजाना भरा हुआ है। इसलिए, पीड़ित परिवार को कम से कम 5 करोड़ आर्थिक मिलनी चाहिए। योगी सरकार को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि यहां कोई भी सुरक्षित नहीं है। हर कोई खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। इस सरकार में किसी की भी जान जा सकती है मेरी भी जा सकती है और आपकी भी जा सकती है।

Loading...