पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने 2014 मे बीजेपी की जीत का सेहरा आरएसएस के सिर बांधा है। स्वामी ने कहा कि बीजेपी कि जीत आरएसएस द्वारा किए गए हिंदू वोटों के ध्रवीकरण से ही संभव हो पाई है।

‘द क्विंट’ को दिए इंटरव्यू में स्वामी ने कहा कि साल 2019 में बीजेपी को 2014 से भी प्रचंड जीत हासिल हो सकती है बशर्ते प्रधानमंत्री ने इनकम टैक्स को खत्म कर दिया तो। उन्होंने कहा कि यह सुनकर लोग न सिर्फ मोदी की जय-जयकार करेंगे बल्कि सड़कों पर नाचने लगेंगे।

उन्होंने कहा कि पिछले सोकसभा चुनाव में आरएसएस की वजह से हिन्दू वोटों का ध्रुवीकरण हुआ। उन्होंने कहा कि 90 फीसदी सीटों पर जीत संघ की वजह से हुई। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी का चेहरा भी इसमें काम आया। लोगों को लगा कि गुजरात में काम किया है तो देश में भी विकास का काम करेगा।

हालांकि स्वामी ने अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर मोदी सरकार की आलोचना की और कहा कि जब 1991 में देश का विदेशी मुद्रा भंडार बहुत कम गया था और अंतर्राष्ट्रीय मोर्चे पर भारत की बदनामी होने वाली थी तब तत्कालीन प्रधानमंत्री चंद्रशेखर ने उन्हें इस ठीक करने का जिम्मा सौंपा था।

उन्होंने बताया कि तब उन्होंने अमेरिका से डील किया था कि 200 बिलियन डॉलर कर्ज आईएमएफ से बिना शर्त के दिलवाया था, इससे इकोनॉमी सुधर गई थी। उन्होंने कहा कि उनकी नीतियों और छह महीने में उनके काम की वजह से जीडीपी 1.5 फीसदी से बाद में पांच साल में 9 फीसदी तक पहुंच गई थी।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?