Tuesday, July 27, 2021

 

 

 

महागठबंधन में एक और एंट्री, मुस्लिम-दलित वोटों पर है नजर

- Advertisement -
- Advertisement -

लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी से मुक़ाबले के लिए साथ आई समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन में तीसरे पार्टनर के तौर पर राष्ट्रीय लोकदल की भी एंट्री हो गई है। साथ ही  पश्चिम यूपी की लोकसभा सीटों को लेकर तीनों दलों में सीट शेयरिंग का फॉर्मूला तय भी हो गया है।

जानकारी के अनुसार, पश्चिम यूपी की 22 लोकसभा सीटों में से ज्यादातर सीटें बहुजन समाज पार्टी के खाते में गई है। पश्चिम की 11 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। जबकि 8 सीटों पर सपा और 3 सीटों पर आरएलडी को मिली हैं। सूबे की अभी 56 सीटों पर तस्वीर साफ नहीं हुई है।

बसपा के खाते में पश्चिम यूपी की नोएडा, गाजियाबाद, मेरठ-हापुड़, बुलंदशहर, आगरा, फतेहपुर सिकरी, सहारनपुर, अमरोहा, बिजनौर, नगीना और अलीगढ़ सीटें आई हैं। मौजूदा समय में इन सभी सीटों पर बीजेपी का कब्जा है। वहीं, सपा हाथरस, कैराना, मुरादाबाद, संभल, रामपुर, मैनपुरी, फिरोजाबाद और एटा लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। जबकि आरएलडी बागपत, मुजफ्फरनगर और मथुरा सीट पर किस्मत आजमाएग।

इन 11 सीटों में से 2 पर सपा और उपचुनाव में जीती कैराना सीट पर आरएलडी के पास है। इसके अलावा सभी 8 सीटें बीजेपी के पास है। पश्चिम यूपी में दलित, मुस्लिम, जाट मतदाता अच्छी खासी तादाद में हैं. पश्चिम यूपी की करीब एक दर्जन सीट हैं, जहां 30 फीसदी से ज्यादा मुस्लिम मतदाता है। इनमें सहारनपुर में 39 फीसदी, कैराना में 39 फीसदी, मुजफ्फरनगर में 37, मुरादाबाद में 45, बिजनौर में 38 फीसदी, अमरोहा में 37 फीसदी, रामपुर में 49 फीसदी, मेरठ में 31 फीसदी, संभल में 46 फीसदी, नगीना में 42 फीसदी और बागपत में 17 फीसदी हैं।

उल्लेखनीय है कि पश्चिम यूपी में मुस्लिम और दलित मतदाता किंगमेकर की भूमिका में है। इसके अलावा पश्चिम यूपी की कई लोकसभा सीटें ऐसी हैं, जहां जाट मतदाताओं की अहम भूमिका है. इस तरह से सपा-बसपा और आरएलडी मिलकर इन वोटों को साथ रख पाने में सफल होते हैं तो उन्हें जीत की राह आसान हो सकती है। बसपा ने पश्चिम यूपी की उन्हीं सीटों को लिया हैं जो मुस्लिम और दलित बहुल मानी जाती है। इससे साफ जाहिर है कि मायावती यादव वोटों से ज्यादा दलित और मुस्लिम पर ज्यादा भरोसा जता रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles