आगरा | मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने बलात्कारियो को दानव की संज्ञा देते हुए कहा की इन लोगो को उल्टा लटकाकर तब तक पीटना चाहिए जब तक इनकी खाल न उतर जाए. उमा भारती ने यह भी खुलासा किया की उनके मुख्यमंत्रित्व काल में उन्होंने बलात्कारियो को इसी तरह टॉर्चर किया था.

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए सभी पार्टियों के स्टार प्रचारक अपने उम्मीदवार को जीताने के लिए जनसभाए और रैलिया कर रहे है. आगरा में बीजेपी उम्मीदवार हेमलता दिवाकर के प्रचार में एक रैली को संबोधित करने आई उमा भारती ने प्रदेश की सपा सरकार पर जमकर निशाना साधा. उमा ने अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव पर पार्टी का प्रचार करने के लिए सवाल उठाये.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उमा ने बुलंदशहर गैंगरेप की घटना पर बोलते हुए कहा की बलात्कारियो का कोई मानवाधिकार नही होता क्योकि वो मानव नही दानव होते है. मैं मानती हूँ की बलात्कारियो को उल्टा लटकाकर तब तक पीटना चाहिए जब तक उनकी खाल नही उतर जाती. यही नही इसके बाद उनके जख्मो पर मिर्च और नमक भी छिडकना चाहिए. मैंने मध्य्प्रदेश की मुख्यमंत्री रहते हुए बलात्कारियो के साथ ऐसा ही सुलूक किया था.

एक घटना का जिक्र करते हुए उमा ने कहा की मैंने तब रेप पीडितो के सामने बलात्कारियो को पुलिस स्टेशन में उल्टा टंगवाकर तब तक पिटवाया जब तक उनकी खाल नही उतर गयी. उस समय मुझे पुलिस वालो ने कहा की रहने दो दीदी मानवाधिकारो का हनन हो जायेगा. इस पर मैंने कहा की मानवाधिकारो का हनन मानवों का होता है लेकिन ये तो दानव है. इनका तो सर रावण की तरह काट देना चाहिए.

बुलंदशहर में हुए गैंगरेप पर उन्होंने कहा की अखिलेश सरकार ने पीडितो को न्याय नही दिलाया. डिंपल यादव पर निशाना साधते हुए उमा ने कहा की ठीक है वो अपनी पार्टी के लिए प्रचार कर रही है. लेकिन वो अपने उम्मीदवारों के लिए वोट मांग सकती है लेकिन रेप पीडितो से मुलाकात नही कर सकती.

Loading...