राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव उत्तर प्रदेश चुनाव में समाजवादी पार्टी और कांग्रेस का प्रचार-प्रसार करने उतर गए हैं. बुधवार को बुलंदशहर में अपने दामाद राहुल यादव प्रचार-प्रसार करने के बाद कहा कि वह भाजपा और संघ के नफरत और जहर को पूरी तरीके से खत्म करने के लिए उत्तर प्रदेश आए हैं. राहुल यादव समाजवादी पार्टी के टिकट पर सिकंदराबाद से चुनाव लड़ रहे हैं.

लालू ने कहा कि जिस तरीके से बिहार चुनाव में उन्होंने और नीतीश कुमार ने बीजेपी के विजय रथ को रोका था उसी प्रकार उत्तर प्रदेश में भी बीजेपी को रोकेंगे. लालू का कहना था कि उत्तर प्रदेश में तो बीजेपी का रथ ही नहीं है और उन सब का पहिया भी टूट चुका है और जो बचा खुचा है वह 11 मार्च को चुनावी नतीजे आने के बाद टूट जाएगा.

इस दौरान उन्होंने अपने आप को फ्रीलांसर राजनेता बताया. उन्होंने कहा कि वह एक फ्रीलांसर राजनेता हैं जो बीजेपी और आरएसएस जैसे संगठनों को पूरी तरीके से कुचलने के लिए किसी भी राज्य में जा सकते हैं. लालू ने कहा कि नरेंद्र मोदी भारत के ट्रंप हैं. जब से ट्रंप ने अमेरिका की सत्ता संभाली है, अपने उलटे फैसलों को लेकर चर्चा में है. ठीक उसकी प्रकार नरेंद्र मोदी भी अपने नोटबंदी, नकदी लेन-देन बंद करने जैसे उल्टे फैसलों के कारण चर्चा में बने है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने आगे कहा कि जब से मोदी ने देश की सत्ता संभाली है देश का सकल घरेलू उत्पाद घट गया है. देश में बेरोजगारी बढ़ी है. पांच करोड़ को रोजगार देने का वादा करने वाले मोदी पांच लाख लोगों को भी रोजगार नहीं दे सकें. चुनाव में उन्होंने कालाधन देश में वापस लाने और हर देशवासी के खाते में 15-15 लाख रूपये जमा करने का वादा किया था. भाजपा की सरकार को ढाई साल से अधिक समय हो गया लेकिन देशवासियों के खाते में आज तक 15-15 लाख रूपये नहीं आए.

लालू ने कहा कि बिहार की हार के थपेड़ों से ई संघी लोग अबतक लाल है। यूपी हार के बाद तो ये सब पगला जाएंगे। ये अज्ञानी लोग पता नहीं क्या-क्या बकता है?

Loading...