पूर्व राज्यसभा सांसद और जेडीयू के बागी नेता शरद यादव ने कथित तौर पर अयोध्या मुद्दे को सुलझाने में जुटे आर्ट ऑफ़ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर के सीरिया सबंधी विवादित बयान को लेकर कहा कि वे देश में दंगे भड़काने की कोशिश कर रहे है.

ध्यान रहे श्रीश्री रविशंकर ने अयोध्या विवाद को लेकर कहा था कि अयोध्या में राममंदिर नहीं बना, तो भारत सीरिया बन जायेगा. उन्होंने कहा, ‘यह मामला नहीं सुलझा तो देश सीरिया बन जाएगा. अयोध्या मुस्लिमों का धार्मिक स्थल नहीं है. उन्हें इस धार्मिक स्थल पर  अपना दावा छोड़ कर मिसाल पेश करनी चाहिए.’

शरद यादव ने बिहार के गया में श्री श्री रविशंकर के बयान को अल्पसंख्यकों को धमकी देने जैसा बताया है. उन्होंने कहा कि श्री श्री रविशंकर जैसे धर्मगुरु देश में सांप्रदायिक हिंसा और तनाव फैलाने की कोशिश कर रहे हैं. शरद यादव ने श्री श्री रविशंकर को चेताया कि वह आध्यात्मिक गुरु हैं और उन्हें राजनीतिक बयानबाजी नहीं करनी चाहिए.

इसी बीच आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुसलिमीन (AIMIM) नेता असदुद्दीन ओवैसी ने रविशंकर के बयान को लेकर सुप्रीम कोर्ट से अपील की हैं कि अयोध्या मामले की सुनवाई 2019 लोकसभा चुनाव के बाद की जाए क्योंकि इस मुद्दे का राजनीतिकरण किया जा रहा है.

ओवेसी के मुताबिक अगर इस मामले की सुनवाई 2019 लोकसभा चुनाव के बाद होती है तो कोई फर्क नहीं पड़ेगा. ओवैसी ने कहा कि क्यों कोई उन पर उंगली नहीं उठाता जो भारत के सीरिया बन जाने की धमकियां दे रहे है. इस तरह के बयान वो देते हैं जो भारतीय संविधान या सुप्रीम कोर्ट में विश्वास नहीं रखते.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?