चंपारण सत्याग्रह के सौ साल पूरे होने के अवसर पर पटना में आयोजित राष्ट्रीय विमर्श कार्यक्रम में बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) को निशाने पर लिया.

उन्होंने आरएसएस पर हमला बोलते हुए कहा कि गोडसे के उपासक देश की नई परिभाषा गढ़ रहे हैं. देश खतरनाक हालात से ग़ुज़र रहा है. हमें संघ के दुष्प्रचार को नकारना होगा.

तेजस्वी ने गांधीवादी विचारधारा को ही आज के हालात से निपटने के लिए एक मात्र समाधान बताया. उन्होंने कहा, इसके ज़रिए ही देश की सभी ज्वलंत समस्याओं का समाधान हो सकता है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

चंपारण का ज़िक्र करते हुए उन्होंने कहा कि यह वही जगह है जिसने गांधी को महात्मा बना दिया. तेजस्वी ने कहा कि यही बापू की महानता है कि उनके हत्यारे गोडसे को पूजने वाले भी सत्याग्रह शताब्दी समारोह मना रहे हैं.

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि हम महात्मा गाँधी के नश्वर शरीर को तो दक्षिणपंथी विचारधारधारा के हाथों खो चुके हैं, लेकिन उन्हें गाँधी की मानवतावादी विचारधारा को देश से समाप्त नहीं करने देंगे.

Loading...