Friday, December 3, 2021

राम मंदिर, तीन तलाक को बेवजह तूल न दे, NDA को हो सकता है नुकसान: चिराग पासवान

- Advertisement -

भारतीय जनता पार्टी की सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी ने लोकसभा चुनावों से पहले उठाए जा रहे राम मंदिर निर्माण और तीन तलाक जैसे विवादित मुद्दों को नामंजूर कर दिया. साथ ही कहा कि ऐसे मुद्दों से एनडीए को नुकसान हो सकता है.

लोक जनशक्ति पार्टी के संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष चिराग पासवान ने शनिवार को साफ़ कहा कि अगर राम मंदिर को आगामी लोकसभा चुनाव में मुद्दा बनाया गया तो इसका नुक़सान हो सकता है. चिराग अपने बिहार दौरे के दौरान शेखपुरा में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे.

चिराग पासवान ने कहा कि मेरे हिसाब से राम मंदिर कोई मुद्दा नहीं होना चाहिए. जब तीन राज्यों के चुनाव परिणाम आए थे, तब भी मैंने कहा था कि कहीं न कहीं हम लोगों को इसका नुक़सान होता है. जब भी हम विकास के मुद्दे से भटकते हैं तो चुनावों में इसका खामियाजा उठाना पड़ता है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और एनडीए से उनकी अपेक्षा होगी कि आगामी चुनाव में विकास ही मुद्दा हो. चिराग पासवान ने याद दिलाया कि 2014 का चुनाव हमने विकास के आधार पर लड़ा था, इसलिए 2019 के चुनाव में भी विकास को प्राथमिकता दी जानी चाहिए.

इसके अलावा नौजवानों की समस्या, किसानों की समस्या, वंचित वर्ग की समस्या और देश में आधारभूत संरचना से संबंधित समस्याओं को प्राथमिकता देकर चुनाव में मुद्दा बनाया जाना चाहिए. चिराग ने राम मंदिर के मुद्दे पर अपनी पार्टी का स्टैंड एक बार फिर साफ किया और कहा कि उसका हम लोग स्वागत करेंगे. 

चिराग ने ये टिप्पणियां ऐसे समय में की हैं, जब तीन तलाक के मुद्दे पर संसद में हंगामा हो रहा है. वहीं, राज्य में भाजपा की एक अन्य सहयोगी JDU ने राज्यसभा में तीन तलाक संबंधी विधेयक पर वोटिंग की स्थिति में विधेयक के पक्ष में वोट डालने से इनकार कर दिया है. JDU ने लोकसभा में भी इस विधेयक पर वोटिंग में हिस्सा नहीं लिया था.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles