मुंबई: महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे ने अयोध्या में होने जा रहे राम मंदिर भूमि पूजन के कार्यक्रम को लेकर सवाल खड़े करते हुए कहा कि इस कार्यक्रम को कुछ वक्त बाद भी किया जा सकता था।

ठाकरे ने ‘ई- भूमि पूजन’ के महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के सुझाव को भी खारिज कर दिया और कहा कि भूमि पूजन का कार्यक्रम बड़े उत्साह के साथ आयोजित किया जाना चाहिए।

मनसे प्रमुख ने मराठी समाचार चैनल से कहा, ‘इस समय भूमि-पूजन की आवश्यकता नहीं थी क्योंकि अभी लोगों की मानसिक स्थिति बिल्कुल अलग है। स्थिति सामान्य होने पर इसे दो महीने बाद भी किया जा सकता था। तब लोग इस कार्यक्रम का आनंद भी उठा पाते।’

राम मंदिर के लिए भूमि पूजन का कार्यक्रम पांच अगस्त को आयोजित किया जा रहा है। जिसमे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद शामिल होंगे। राम मंदिर ट्रस्ट की ओर से कहा गया है कि कार्यक्रम में सिर्फ 200 लोग मौजूद रहेंगे और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएगा।

हालांकि भूमि पूजन से पहले राम जन्मभूमि के पुजारी प्रदीप दास (Priest Pradeep Das) कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। वह प्रधान पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास के शिष्य हैं। इसके साथ ही अंदर मंदिर की सुरक्षा में लगे 16 पुलिस वालों को कोरोना पॉज़िटिव पाया गया है।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन