समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव ने पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों के काफिले पर हुए आतंकी हमले को साजिश करार देते हुए कहा है कि वोटों के लिए जवानों को मार दिया गया। उन्होंने कहा कि जब सरकार बदलेगी तो इसकी जांच होगी और बड़े-बड़े लोग फंसेंगे।

होली मिलन कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा, ‘पैरामिलिट्री फोर्स सरकार से दुखी हैं। वोट के लिए जवान मार दिए गए। जम्मू-श्रीनगर के बीच चेकिंग नहीं की थी। जवानों को सादी बस में भेजा गया, ये साजिश थी।’ इससे आगे उन्होंने कहा कि इस साजिश के बारे में अभी कुछ नहीं कहना चाहता हूं लेकिन जब सरकार बदलेगी, इस मामले की जांच होगी और बड़े-बड़े लोग फंसेंगे।

Loading...

बता दें, कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने सीआरपीएफ के काफिले पर हमला कर दिया था। इस काफिले पर एक आत्मघाती आतंकी ने कार में खुद को उड़ाकर हमला कर दिया था। हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। हमले के तुरंद बाद आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इसकी जिम्मेदारी ली थी।

दूसरी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने  पलटवार करते हुए कहा कि उनका यह बयान घटिया राजनीति का भद्दा उदाहरण है। सीएम योगी ने कहा कि राम गोपाल यादव को अपने इस बयान के लिए सीआरपीएफ जवानों और देश की जनता से माफी मांगनी चाहिए।

योगी आदित्यनाथ ने राम गोपाल के बयान पर जवाब देते हुए कहा, ‘हमारे बहादुर जवानों ने सदैव आतंकवाद और हर प्रकार के उग्रवाद का डटकर मुकाबला किया और देश की सुरक्षा को सुनिश्चित किया। जवानों ने एयर स्ट्राइक से पीओके स्थित बालाकोट में सारे आतंकी कैंपों को नष्ट करके शौर्य और पराक्रम का परिचय दिया। इस शौर्य पर सवाल खड़ा करना और आतंकियों के पक्ष में सहानुभूति प्रकट करना शर्मनाक है।’

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें