यूपी में चल रहे विधानसभा चुनाव को लेकर भारत के गृहमंत्री और पूर्व भाजपा प्रमुख ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि यूपी चुनाव में बीजेपी को मुस्ल‍िम कैंडिडेट्स को भी उतारना चाहिए था.

उन्होंने कहा, ‘हमने कई दूसरे राज्यों में अल्पसंख्यकों को टिकट दिए हैं. यूपी में भी इस पर बात होनी चाहिए थी. मैं वहां नहीं था, मुझे जो पता है, उसके आधार पर बोल रहा हूं. हो सकता है उन्हें (बीजेपी पार्ल्यामेंट्री बोर्ड को) कोई (जीतने योग्य मुस्लिम उम्मीदवार) नहीं मिले हों. लेकिन, मेरा मानना है कि फिर भी उन्हें (मुसलमानों को) टिकट मिलना चाहिए था.’

न्यूज चैनल टाइम्स नाऊ को दिए इंटरव्यू में बुधवार को कहा, ‘हो सकता है कि स्टेट कमिटी किसी को कोई नहीं मिला हो, लेकिन अगर कोई (मुस्लिम उम्मीदवार) होता तो हमारा नुकसान नहीं करता. हम ध्यान देंगे और प्रयास करेंगे कि अल्पसंख्यक उम्मीदवार तैयार किए जा सकें.’

यद्यू रहे कि यूपी में मुस्लिम आबादी करीब 19% है. इतने बड़े प्रदेश में बीजेपी को एक भी मुस्लिम उम्मीदवार नहीं मिला हैं. ये बीजेपी के ‘सबका साथ सबका विकास’ पर सवालिया निशान हैं.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें