rajb

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने शनिवार को बुंदशहर हिंसा को बीजेपी की साजिश करार देते हुए कहा कि बीजेपी 2019 में जीतने के लिए वोट बैंक के चक्कर में यह सब करवा रही है।

राजभर ने शनिवार को ये भी कहा कि बहराइच से भाजपा सांसद सावित्रीबाई फुले का इस्तीफा देना बहुत सही निर्णय है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में सांसदों और विधायकों की सुनी नहीं जा रही है। ऐसे में उन्होंने जो निर्णय लिया है वह बिल्कुल ठीक है।

राजभर ने कहा, ‘जब सांसद की बात अधिकारी नहीं सुनेगा तो क्या होगा। सांसद को जनता को जवाब देना पड़ता है। ऐसे में उनका निर्णय कहीं न कहीं बिलकुल उचित है।’ उन्होंने एक बार फिर बुलंदशहर की हिंसा को भाजपा की साजिश बताते हुए कहा कि 2019 में वोट बैंक के चक्कर में भाजपा यह सब करवा रही है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

राजभर ने एक सवाल के जवाब में कहा कि आप को भी गठबंधन को लेकर कोई निर्णय लेना पड़े तो क्या करेंगें? उन्होंने कहा, “मैं स्वतंत्र हूं और भाजपा के साथ हूं। बीजेपी रखेगी तो रहूंगा, नहीं रखेगी तो नहीं रहूंगा। मैं किसी के खिलाफ नहीं बोलता बस सच बोलता हूं। अगर सपा, बसपा का गठजोड़ हुआ तो भाजपा के लिए मुश्किल होगी।”

bjp2 kvwe 621x414@livemint

इससे पहले बुलंदशहर हिंसा पर राजभर ने कहा था कि “यह वीएचपी, बजरंग दल और आरएसएस की ओर से प्री-प्लान षड्यंत्र है, अब पुलिस भी इसमें कुछ बीजेपी सदस्यों का नाम दे रही है।” राजभर ने सवाल उठाया, “मुस्लिम इज्तेमा समारोह के दिन ही ये प्रदर्शन क्यों हुआ? यह शांति को भंग करने की कोशिश थी।”

उन्होने ये भी कहा था कि बजरंग दल और वीएचपी वाले बीजेपी के लिए काम करते हैं। इस घटना में बीजेपी का नेता भी पकड़ा गया है। जिन तीन लोगों की गिरफ्तारी हुई है, इसमें एक बीजेपी नेता भी है। कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि सीएम योगी से यही कहेंगे कि इनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए।

Loading...