salwa

राजस्थान विधनासभा चुनाव की वोटिंग के लिए अब सिर्फ सात दिन बचे हैं ऐसे में गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को बड़ा झटका लगा है। दरअसल चार नेताओं ने पार्टी छोड़ दी और कांग्रेस का दामन थाम लिया है।

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और शेखावाटी में भाजपा की वरिष्ठ नेता सुमित्रा सिंह और वक्फ बोर्ड चैयरमैन सलावत खान गुरुवार को कांग्रेस में शामिल हो गए। इसके अलावा पूर्व विधायक रविन्द्र बोहरा और उनके पुत्र विवेक बोहरा ने बीजेपी को अलविदा कह दिया है।

Loading...

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट, पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और राज्य प्रभारी अविनाश पांडे की उपस्थिति में दोनों नेताओं को कांग्रेस का दुपट्टा पहनाकर पार्टी में शामिल किया गया। ये चारों नेता कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी होने के बाद पार्टी में शामिल हुए हैं।

bjp

बता दें, सुमित्रा सिंह राजस्थान की राजनीति में बड़ा नाम है। वह झुंझुनूं जिले के कई विधानसभा क्षेत्रों से चुनाव लड़ती आई हैं। उन्होंने अब तक13 बार विधानसभा चुनाव लड़ा है, जिसमें नौ बार विजय पताका फहराया है। उन्हें 2003 में बनी वसुंधरा राजे सरकार में विधानसभाध्यक्ष बनाया गया था। इससे पहले वे कांग्रेस में ही थी।

इधर, पार्टी के अल्पसंख्यक नेता रहे सलावत खान पिछली बीजेपी सरकार में वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष थे। वहीं, धौलपुर के राजाखेड़ा विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी के विधायक रह चुके रविन्द्र बोहरा और उनके बेटे विवेक बोहरा ने भी पार्टी छोड़ी।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें