महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) का पाकिस्तानी कलाकारों को देश छोड़ने के धमकी देना राज ठाकरें के लिए मुसीबत बन गया हैं. विपक्षी दलों ने उनके खिलाफ मौर्चा खोल दिया हैं.

इसी कड़ी में  अब महाराष्ट्र में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अबु आजमी ने एमएनएस की इस धमकी को वोटबैंक की राजनीति करार देते हुए कहा कि अगर राज ठाकरे में हिम्मत है तो वह नई दिल्ली जाकर पाकिस्तानी दूतावास को बंद करवा दें या भारतीय दूतावास को पाकिस्तानी नागरिकों को वीजा देने से रोक दें. अगर वो ऐसा करते हैं तो मैं समझूंगा उन्होंने वास्तव में कुछ किया है.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

आजमी ने आगे कहा कि वैध तरीके से पाक से भारत आने वाले कलाकारों को धमकाने की बजाय वह अपने आत्मघाती हमलावरों को लाहौर और कराची भेजें. उन्होंने आगे कहा. पाकिस्तान अपने फिदायीन भारत भेज रहा है और अगर उनमें क्षमता है तो वह भी अपने हमलावरों को पाकिस्तान भेजें.

आज़मी ने ठाकरे से कहा, आज गडचिरौली और चंद्रपुर में नक्सलियों द्वारा पुलिस और सुरक्षाबलों पर हमले किए जा रहे हैं. यदि आप कराची और लाहौर में कुछ नहीं कर सकते तो अपने कार्यकर्ताओं को कम से कम इन दो स्थानों पर भेजकर हमारे सुरक्षाबलों की सहायता ही कर दीजिए. ऐसा करने के बाद मैं समझूंगा कि आप वास्तव में कुछ कर रहे हैं.

उन्होंने ठाकरे को नसीहत देते हुए कहा, यह सही है कि पाकिस्तान ने हमारे 18 जवानों की हत्या की है. इससे हमें दुख हुआ है और पाकिस्तान से हमें इसका बदला लेना चाहिए। लेकिन, इसका ये मतलब नहीं है कि आप वहां से भारत आने वाले कलाकारों और खिलाड़ियों को धमकी देंगे और डराएंग.