सात समुन्द्र पार अमेरिका की धरती से कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बाद फिर से केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने बेरोजगारी और असहिष्णुता को देश के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया.

उन्होंने कहा कि असहिष्णुता और बेरोजगारी दो मुख्य मुद्दे हैं, जो भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा और विकास के लिए गंभीर चुनौती पैदा करते हैं. उन्होंने कहा, सरकार नई नौकरियां पैदा करने में विफल रही. जिसकी वजह से देश को खतरे की ओर जा रहा है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वाशिंगटन पोस्ट की संपादकीय टीम से ऑफ-द-रिकार्ड बातचीत के दौरान उन्होंने पूरी दुनिया में इन्‍टॉलरेंस (असहिष्णुता) बढ़ने पर दुख जाहिर किया. ध्यान रहे राहुल गांधी दो हफ्तों के लिए अमेरिका के दौरे पर हैं.

इस दौरान उन्होंने डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ झुकाव रखने वाले थिंक टैंक सेंटर फार अमेरिकन प्रोग्रेस (सीएपी) की ओर से आयोजित इंडियन, साउथ एशिया एक्‍सपर्ट्स के साथ राउंडटेबल मीटिंग में हिस्सा लिया.

इस प्रोग्राम में शामिल होने वाले लोगों में सीएपी हेड नीरा टंडन, भारत में अमेरिका के पूर्व राजदूत रिचर्ड वर्मा और हिलेरी क्लिंटन के टॉप कैम्‍पेन एडवाइजर जॉन पोडेस्टा प्रमुख थे.

Loading...