श्रीनगर से लौटकर बोले राहुल गांधी – जम्मू कश्मीर में हालात सामान्य नहीं…

11:12 am Published by:-Hindi News

शनिवार को अनुच्छेद 370 के प्रमुख प्रावधानों को हटाए जाने के बाद वहां की स्थिति का जायजा लेनेे श्रीनगर पहुंचे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कई अन्य विपक्षी दलों के वरिष्ठ नेताओं को दिल्ली वापस भेज दिया गया। इन नेताओं को एयरपोर्ट से बाहर नहीं निकलने दिया गया।

श्रीनगर एयरपोर्ट से बैरंग लौटाए जाने के बाद जब ये राहुल गांधी दिल्ली पहुंचे तो उन्होंने मीडिया को बताया कि ”राज्य प्रशासन के इस कदम ने साबित कर दिया कि जम्मू-कश्मीर में कानून-व्यवस्था की स्थिति सामान्य नहीं है।

राहुल गांधी ने कहा, ”कुछ दिन पहले, मुझे जम्मू-कश्मीर की यात्रा के लिए राज्यपाल ने आमंत्रित किया था। इसलिए मैंने उनका आमंत्रण स्वीकार किया। राज्यपाल ने सुझाव दिया था कि सब कुछ सामान्य है और वह मुझे राज्य का दौरा करने के लिए एक विमान भेजेंगे। मैंने उनसे कहा- मुझे आपके विमान की आवश्यकता नहीं है लेकिन मैं आपका निमंत्रण स्वीकार करूंगा और मैं जम्मू-कश्मीर आ जाऊंगा।”

दिल्ली लौटने के बाद राहुल ने आगे कहा, ”हम यह जानना चाहते थे कि लोग किस स्थिति में हैं और अगर हम उनकी मदद कर सकते हैं तो करेंगे, लेकिन दुर्भाग्य से हमें हवाई अड्डे से आगे नहीं जाने दिया गया। हमारे साथ के प्रेस लोगों के साथ बुरा व्यवहार किया गया और पीटा गया। यह स्पष्ट है कि जम्मू-कश्मीर में हालात सामान्य नहीं हैं।”

वहीं सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा, “जब हमें एयरपोर्ट पर हिरासत में लिया गया तब हमने पूछा कि ऐसा किन आरोपों में किया गया है और हम आदेश देखना चाहते हैं। क़ानून के मुताबिक हमें उस आदेश की एक प्रति दी जानी चाहिए। उन्होंने हमें वो कॉपी नहीं दी और उसे पढ़कर सुनाया। उन्होंने हमसे गुजारिश की कि कृपया प्रति हासिल करने पर ज़ोर नहीं दें और जब हमने वो आदेश देखा तो उस आदेश में लिखा था कि हम लोगों को एकजुट कर व्यवधान पैदा करने आए हैं।”

गुलाम नबी आज़ाद ने कहा, “केंद्र सरकार ने एक ऐसा क़ानून बनाया जिसे कश्मीर के लोगों ने स्वीकार नहीं किया। वहां की स्थिति पर पर्दा डालने के लिए पूरे राज्य को बंद कर के रखा गया है। न वहां के लोग देश के किसी आदमी से बात कर सकते हैं और न बाकी लोग उनसे। ये देश के लिए चिंता का विषय है।”

Loading...