अलवर में कथित गौरक्षा के नाम पर मेवात के मुस्लिम युवक की पीट-पीट कर हत्या कर देने के मामलें में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, अलवर में हुई घटना से साबित होता है कि वहां कानून का नहीं गुंदागर्दी का बोलबाला है.

राहुल ने ट्वीट कर हा कि ‘जब सरकार अपनी जिम्‍मेदारी से पल्‍ला झाड़ लेती है और हत्‍यारी भीड़ को शासन करने देती है तो बहुत बड़ी आपदाएं होती हैं. अलवर में कानून-व्‍यवस्‍था बुरी तरह ध्‍वस्‍त हो गई है.”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्‍होंने लिखा, ”हम सरकार से अपेक्षा रखते हैं कि वह इस बर्बर और संवेदनहीन हमले के जिम्‍मेदार लोगों पर सख्‍त कार्रवाई करेगी. सभी भारतीयों को इस अंधी बर्बरता की निंदा करनी ही चाहिए.”

गौरतलब रहें कि राजस्थान के अलवर में कथित गौरक्षा के नाम पर करीब 15 लाेगाें की कथित गौरक्षकों ने पिटाई कर दी थी. भगवा आतंकियों के इस हमलें में पहलू खान नाम के 35 वर्षीय युवक की गंभीर छोटे आई थी. जिसकी इलाज के दौरान अस्पताल में ही मौत हो गई थी.

मेवात की नूह तहसील के रहने वाले पहलू खान डेयरी किसान थे. उन्होंने जयपुर नगर निगम के पशु मेले से क़ानूनी तरीके से गाय खरीदी थी.

Loading...