rahu

rahu

भारत के दूसरे सबसे बड़े राष्ट्रीयकृत बैंक पंजाब नेशनल बैंक की मुंबई स्थित एक शाखा में हुए 1.8 अरब अमेरिकी डॉलर के घोटाले को लेकर विपक्षी पार्टी कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने सीधे प्रधानमंत्री से सवाल करते हुए कहा कि इतना बड़ा घोटाला कैसे और क्यों हुआ ?

राहुल ने कहा, इतना बड़ा घोटाला उपरी मिलीभगत के बिना हो ही नहीं सकता. उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बच्चों को यह बता रहे हैं कि परीक्षायें कैसे दी जायें लेकिन वह यह नहीं बता रहे हैं कि यह घोटाला कैसे हुआ.’  कांग्रेस अध्यक्ष ने दावा किया, ‘इस घोटाले की शुरूआत आठ नवंबर 2016 को तभी हो गयी थी जब प्रधानमंत्री ने 500 और एक हजार रूपये के नोट को चलन से बाहर कर दिया और देश का सारा पैसा बैंकिंग प्रणाली में डाल दिया.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि इसी वजह से 22 हजार करोड़ रूपये बैंक से निकाल लिये जाते हैं. उन्होंने पूछा कि जनता के इस पैसे को लेकर हुए इस घोटाले के लिए कौन जिम्मेदार है. उन्होंने कहा, ‘नोटबंदी के दौरान मोदीजी ने सबसे कहा कि अपना पैसा बैंकों में डालो, उन्होंने गारंटी दी कि पैसा सुरक्षित रहेगा. अब मोदीजी को सबके सामने आकर इस मामले पर सफाई देनी चाहिए.’

राहुल ने कहा, ‘इस घोटाले के बारे में जिन लोगों को नहीं बोलना चाहिए वह बोल रहे हैं और प्रधानमंत्री तथा वित्त मंत्री की इस पर बोलने की जिम्मेदारी है लेकिन वह चुप हैं.’ कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि इतने बडे स्तर के घोटाले की प्रधानमंत्री अनदेखी कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि इतना बडा घोटाला उच्च स्तर के संरक्षण के बिना किया ही नहीं जा सकता है.

Loading...