Saturday, October 23, 2021

 

 

 

कहते थे न खाऊंगा, न खाने दूंगा, अब कहते हैं, न बोलूंगा, न बोलने दूंगा: राहुल गांधी

- Advertisement -

rah11

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वाकपटुता को अपना हथियार बनाकर निशाना साध रहे है.

- Advertisement -

राहुल ने भ्रष्टाचार के मुद्दें पर पीएम मोदी के बयान जिसमे उन्होंने कहा था कि न खाऊंगा न खाने दूंगा को लेकर कहा कि पीएम कहते थे न खाऊंगा न खाने दूंगा और अब कहते हैं न बोलूंगा न बोलने दूंगा.

उन्होंने आगे कहा, मोदी जी की जो मार्केटिंग, शोमैन है… क्या लगता है आपको? मार्केटिंग के लिए दलित,आदिवासी लोग पैसा देते हैं, क्या नहीं. उन्होंने कहा कि इसे कहते हैं ‘क्विड प्रो क्वो’ मैं आपको 33000 करोड़ दूंगा आप मेरी मार्केटिंग करेंगे.

उन्होंने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को मनुवादी बताया. राहुल ने कहा, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) मनुवादी संगठन है, जो देश के जातिवादी सिस्टम को जैसा है, वैसा ही बनाए रखना चाहता है.

उन्होंने कहा कि वे जातिवाद के विरोधी हैं, क्योंकि यह ऐसी व्यवस्था है जो इंसान को इंसान नहीं मानती. उन्होंने कहा कि वे दलितों से संबंधित मुद्दों को पार्टी के मैनिफेस्टो में शामिल करेंगे.

इस दौरान पाटन स्थित वीर मेघ माया मंदिर के दर्शन भी किये. वीर मेघ माया मंदिर में दर्शन से पहले राहुल वक्त निकाल कर यहां ऐतिहासिक रानी की वाव (बावड़ी) देखने पहुंचे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles