कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर पहली विदेश यात्रा के तहत राहुल गांधी रविवार को बहरीन पहुंचे. इस दौरान वह अनिवासी भारतीयों के एक सम्मेलन को संबोधित करेंगे.

यात्रा के दौरान वे सबसे पहले बहरीन के प्रधानमंत्री शहजादे सलमान बिन हमद अल-खलीफा से मुलाकात करेंगे. इस दौरान वे राज्य अतिथि होंगे. उनकी शाह हमद बिन इसा अल खलीफा से भी मुलाकात की संभावना है.

अपने एक दिन के दौरे पर राहुल गांधी मनामा में 50 देशों से भारतीय मूल के बिजनेस लीडरों से मुलाकात के दौरान भारत की अर्थव्यवस्था और आर्थिक मंदी पर चर्चा करेंगे. कांग्रेस की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि गांधी ग्लोबल ऑर्गनाइजेशन ऑफ पीपुल ऑफ इंडिया ओरिजिन (जीओपीआईओ) की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम के विदाई सत्र में सोमवार को हिस्सा लेंगे.

राहुल ने अपनी यात्रा शुरू करने से पहले एक ट्वीट में कहा, ‘‘अनिवासी भारतीय हमारी सौम्य ताकत के वास्तविक प्रतिनिधि एवं विश्व में हमारे देश के दूत होते हैं. बहरीन में अपने देशवासियों के साथ मुलाकात और उन्हें संबोधित करने को लेकर आशान्वित हूं.’’ राहुल के नौ जनवरी को भारत लौटने की संभावना है.

राहुल गांधी के साथ प्रवासी कांग्रेस अध्यक्ष सैम पित्रोदा और पूर्व कांग्रेस सांसद मधु गौड़ भी इस कार्यक्रम में शामिल होंगे. कांग्रेस नेता मधु गौड़ ने बताया, ‘ये अत्यंत गौरव का क्षण है क्योंकि राहुल जी GOPIO को संबोधित करेंगे.’ GOPIO भारतीय व्यापारियों के लिए एक ग्लोबल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म है, जहां 50 देशों से NRI लोग और भारतीय बिजनेस दिग्गज मिलेंगे. इस कार्यक्रम में करीब 1200 प्रतिनिधि शामिल होंगे.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें