rahul-gandhi-outside-parliament_650x400_51437648021

नई दिल्ली | संसद का शीतकालीन सत्र चल रहा है लेकिन बहस सदन के अन्दर न होकर बाहर हो रही है. सभी पार्टी सदन के बाहर अपनी अपनी बाते रख रही है. न ही विपक्ष और न ही सरकार इस गतिरोध को खत्म करने के कोशिश कर रहे है. बीजेपी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण अडवाणी खुद कह चुके है की न तो संसदीय कार्य मंत्री, न स्पीकर और न ही कोई और यह चाहता है की संसद सुचारू रूप से चले.

और दिन की तरह आज भी संसद की कार्यवाही नही चल रही है. राज्यसभा और लोकसभा दोनों सदनों में कार्यवाही शुरू होते ही हंगामा शुरू हो गया जिसके बाद दोनों सदनों की कार्यवाही को स्थगित कर दिया गया. इसी बीच सदन के बाहर आकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर जोरदार हमला बोला. उन्होंने कहा की हम मोदी जी को ऐसे भागने नही देंगे. एक बार वो संसद आ जाये तब हम उन्हें बता देंगे.

नोट बंदी को प्रधानमंत्री का बोल्ड फैसला मानने से इनकार करते हुए राहुल गाँधी ने कहा की कौन कहता है की ये बोल्ड फैसला है. यह बेहद बेकार और मूर्खतापूर्ण फैसला है. इस फैसले से देश को केवल नुक्सान ही हुआ है. मोदी जी ने यह फैसला बिना सोचे समझे लिया है. उनको भी मालुम नही था की इससे ऐसी स्थिति पैदा होगी. वो एक बार संसद आये हम उन्हें बता देंगे, भागने नही देंगे.

नोट बंदी के फैसले को गुप्त रखने और किसी को नही बताने के सवाल पर राहुल ने कहा की लोग कह रहे है की इस फैसले की किसी को जानकारी नही थी जबकि ऐसा नही है. उन्होंने अपनी पार्टी के लोगो को और अपने उधोगपति दोस्तों को इसके बारे में पहले से ही बता दिया था. आज नोट बंदी को हुए एक महीना हो गया है लेकिन हालात अभी भी सामान्य नही हुए है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें