देश के इतिहास के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सीधे तौर पर वित्तमंत्री अरुण जेटली को निशाने पर लिया है.

12700 करोड़ के पंजाब नेशनल बैंक के घोटाले को लेकर राहुल ने ट्वीट कर कहा कि अरुण जेटली अपनी बेटी जो कि वकील हैं उन्हें बचाने के लिए चुप हैं. क्योंकि उनकी बेटी को घोटाले के आरोपी के द्वारा बड़ी फीस दी गई थी. राहुल के अनुसार, ये फीस घोटाले के खुलासे से एक महीने पहले दी गई थी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस ट्वीट में उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि जब आरोपी से जुड़ी बाकी लॉ फर्म पर सीबीआई ने छापा मारा तब इस लॉ फर्म को क्यों छोड़ दिया गया. इस ट्वीट के साथ #ModiRobsIndia हैशटैग डाला गया है.

गौरतलब है कि पीएनबी स्कैम में हीरा कारोबारी नीरव मोदी और उनके रिश्तेदार मेहुल चोकसी मुख्य आरोपी हैं. दोनों पर एलओयू के जरिए बैंक को 12700 करोड़ रुपए का चूना लगाने का आरोप है. दोनों देश से बाहर हैं. साथ ही दोनों ने किसी भी प्रकार की जांच में सहयोग करने से साफ़ इंकार कर दिया है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस मामले में लगातार पीएम नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली से जवाब मांग रहे हैं. इससे पहले राहुल ने पीएम मोदी की चुप्पी पर सवाल उठाते हुए कहा था कि नरेंद्र मोदी इस मुद्दे पर चुप रहेंगे, क्योंकि वह खुद ही भ्रष्टाचार हैं.

राहुल ने कहा था कि पीएम मोदी बच्चों से दो घंटे बात कर सकते हैं लेकिन नीरव मोदी के मसले पर दो मिनट भी बात नहीं करते हैं.