राहुल गांधी ने कहा, ‘हमें चीन के साथ प्रतिद्विंदता में आगे बढ़ना है और हम उस हिसाब से उतना अच्छा नहीं कर रहे हैं। चीन का लक्ष्य बेहद साथ है क्या भारत का भी उतना ही है

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी दो हफ्ते के अमेरिका दौरे के तहत प्रिंसटन यूनिवर्सिटी में छात्रों से रू-ब-रू होने पहुंचे. इस दौरान उन्होंने छात्रों के साथ कई गंभीर मुद्दों पर चर्चा की और उनके सवालों के भी जवाब दिए.

इस दौरान उन्होंने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी सरकार नए रोजगार देने में नाकामयाब रही. उन्होंने कहा कि अगर एक देश अपने युवाओं को रोजगार नहीं दे पाता है तो वह उसे कोई विजन भी नहीं दे सकता है.

गांधी ने आज कहा कि दुनिया में बेरोजगारी से लोग परेशान हैं और इसीलिए नरेंद्र मोदी और डोनाल्ड ट्रंप जैसे नेताओं को लोगों ने चुना. राहुल ने कहा, “जितनी नौकरियां पैदा होनी चाहिए थी, नहीं हुई हैं. नौकरी सबसे बड़ी चुनौतियों में है. हर दिन बाजार में 30,000 बेरोजगार युवक आ रहे हैं. लेकिन नौकरियां सिर्फ 400 पैदा हो पा रही हैं.”

मोदी सरकार द्वारा शुरू की गई ‘मेक इन इंडिया’ योजना का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा, “मेरे ख्याल से मेक इन इंडिया का लक्ष्य छोटे-छोटे उद्योगों को लाभ पहुंचाना होना चाहिए था, लेकिन इसके तहत अभी बड़े उद्योगों को टार्गेट किया जा रहा है.”

राहुल गांधी ने कहा, ‘हमें चीन के साथ प्रतिद्विंदता में आगे बढ़ना है और हम उस हिसाब से उतना अच्छा नहीं कर रहे हैं। चीन का लक्ष्य बेहद साथ है क्या भारत का भी उतना ही है.’

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?