नई दिल्ली: देश में इन दिनों मी टू अभियान ने जोर पकड़ा है। इस अभियान के तहत अलग-अलग क्षेत्रों की महिलाएं अपने साथ हुईं यौन उत्पीड़न की घटनाओं को सामने ला रही हैं। बॉलीवुड, कॉरोपोरेट जगत, राजनीति और मीडिया से जुड़ी कई सारी महिलाओं ने अपने साथ यौन उत्पीड़न होने का आरोप लगाया है। महिलाओं के इस अभियान को बड़े पैमाने पर समर्थन भी मिल रहा है।

इसी कड़ी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी इस मुहिम का समर्थन किया है। राहुल ने कहा है कि लोगों के लिए यह सीखने का समय है कि वे महिलाओं के साथ मर्यादा और सम्मान के साथ व्वयहार करें। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि बदलाव लाने के लिए सच्चाई को बेबाक तरीके से कहने की जरूरत है। राहुल के इस बयान के बाद कांग्रेस विदेश राज्य मंत्री पर अपना हमला और तेज कर सकती है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट कर इस अभियान को अपना समर्थन दिया। उन्होंने लिखा,’ मुझे खुशी है कि महिलाएं सामने आ रही हैं। बदलाव लाने के लिए सच्चाई को बेबाकी से कहने की जरूरत है।’ राहुल गांधी के इस ट्वीट के बाद यह उम्मीद की जा रही है की कोंग्रेस, विदेश राज्य मंत्री एम जे अकबर के इस्तीफ़े के लिए और अधिक हमलावर हो सकती है।

बताते चले की कई महिला पत्रकारों ने विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। इन आरोपो के बाद विपक्ष उनका इस्तीफा मांग रहा है। विदेश राज्य मंत्री अभी विदेश दौरे पर हैं। स्वदेश लौटने पर सरकार भी उनसे इस्तीफा देने के लिए कह सकती है।