देहरादून | कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी और प्रधानमंत्री मोदी में जुबानी जंग चल रही है. खासकर नोट बंदी के बाद इसमें काफी तेजी आई है. पहले दिन मोदी राहुल गाँधी का मजाक बनाते है तो अगले ही दिन राहुल गाँधी उन पर पलटवार कर देते है. अब तो वैसे ही चुनावी मौसम चल रहा है इसलिए यह जंग और दिलचस्प होती जा रही है. दो दिन पहले मोदी ने लोकसभा में भूकंप को लेकर राहुल गाँधी का मजाक बनाया था तो आज राहुल का नम्बर था.

उत्तराखंड में एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल गाँधी ने मोदी की संसद में की गयी टिप्पणियो पर पलटवार किया. उन्होंने कहा की मोदी जी को पूर्ववर्ती प्रधानमंत्रियो का सम्मान करना नही आता. उन्हें दुसरे प्रधानमंत्रियो के बारे में बोलने की तमीज नही है और यह उनको सीखनी चाहिए. दरअसल कल राज्यसभा में मोदी ने मनमोहन सिंह के बारे में कहा था की रेन कोट पहनकर बाथरूम में नहाने की कला सिर्फ मनमोहन सिंह को आती है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मोदी के इस बयान पर राहुल ने कहा की उन्होंने न केवल मनमोहन सिंह का अपमान किया है बल्कि यह देश के हर नागरिक का अपमान है. देश को वो पहले प्रधानमंत्री है जिन्हें पूर्व के प्रधानमंत्रियो के बारे में बात करने की तमीज नही है. वो ऐसे बयान केवल मीडिया की सुर्खिया पाने के लिए करते है. बल्कि मुझे तो ऐसा लगता है की जिस दिन मीडिया में मोदी जी खबर नही आती , उस दिन उन्हें नींद भी नहीं आती.

मोदी द्वारा लोकसभा में अपना मजाक उड़ाने पर राहुल गाँधी ने कहा की मोदी जी का यह बयान संवेदनहीन है. दुःख की बात यह है की उत्तराखंड में भूकंप आया और मोदी जी इसकी मजाक बना रहे है. दरअसल लोकसभा में बोलते हुए मोदी ने उत्तराखंड में आये भूकंप और राहुल गाँधी के एक बयान के सन्दर्भ में बोलते हुए कहा था की धमकी तो काफी दिनों से दे रहे थे, आख़िरकार भूकंप आ ही गया.

Loading...