324637 raghunandan sharma shivraj singh

भोपाल: मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजे आने में 24 घंटे का भी समय अब बाकि नहीं रहा है। ऐसे में राजनीतिक पार्टियों को हार और जीत का डर सत्ता रहा है। इस हार-जीत का डर बीजेपी खेमे मे साफ देखा जा सकता है।दरअसल मध्‍यप्रदेश बीजेपी में नाराजगी के सुर उभरने लगे हैं।

बीजेपी के राज्‍यसभा सांसद रघुनंदन शर्मा ने परिणाम आने से पहले ही मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर ही निशाना साध दिया है। इससे पहले बाबूलाल गौर भी बगावती तेवर दिखा चुके हैं। अब रघुनंदन शर्मा ने कहा है कि अगर बहुमत नहीं आया तो इसकी जिम्‍मेदारी शिवराज सिंह चौहान की होगी।

Loading...

उन्‍होंने कहा- यदि ऐसे दम्भ भरे शब्‍द, जिनमें चुनौती अहंकार झलकता है, वह नहीं बोलते तो 1-2 परसेंट वोट की कमी रह सकती थी. मप्र मे एक परसेंट वोट की कमी मतलब 10 सीटों का कम होना। यदि हम उस शब्द के लिए खेद व्यक्त कर लेते या उस समाज को समझा लेते तो हम उस क्षति की पूर्ति कर लेते।

शर्मा ने कहा, ‘लोगों का आक्रोश था कि सीएम ने इस प्रकार की बात कह दी कि ‘कोई माई का लाल’. इससे हमारा नुकसान तो हुआ है और लगता है कि अगर इस प्रकार के शब्दों का प्रयोग नहीं होता तो और 10-15 सीटें हमारी आतीं और ये अनिश्चितता की स्थिति नहीं बनती’  बता दें, शिवराज सिंह चौहान ने आरक्षण के मुद्दे पर कहा था कि ‘कोई माई का लाल आरक्षण खत्म नहीं कर सकता’

उन्होने कहा, ‘हो सकता है कि हमने गलतियां की हों। इसलिए एग्जिट पोल ऐसे आए हैं। ये गलत साबित हो सकते हैं, लेकिन यह हमारी उम्मीदों पर खतरे भी नहीं उतरते। 200 प्लस सीटें तो छोड़िए, हमें पिछली बार जितनी सीटें मिली थीं, उतनी भी इस बार आ जाएं तो हम संतुष्ट होंगे। लेकिन अगर भाजपा के पास उतनी सीटें भी नहीं आती हैं, तब भी भाजपा बहुमत के साथ आएगी।’

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें