Tuesday, August 3, 2021

 

 

 

जामिया पर पुलिस कार्रवाई के खिलाफ प्रियंका का इंडिया गेट पर धरना

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के प्रदर्शन को रोकने के लिए की गई पुलिस कार्रवाई के खिलाफ कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी अपने समर्थकों के साथ इंडिया गेट पर धरने पर बैठ गई हैं।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ इंडिया गेट पर धरने में उनके साथ कांग्रेस पार्टी के कई वरिष्ठ नेता मौजूद हैं। इस बारे में कांग्रेस पार्टी के चीफ प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बताया है कि शाम चार बजे शुरू हुआ धरना दो घंटे का है और यह जामिया मिल्लिया इस्लामिया तथा अन्य स्थानों के छात्रों के साथ एकजुटता प्रकट करने के लिए किया जा रहा है।

इस प्रदर्शन में शामिल कांग्रेस नेताओं ने अपने हाथों में कई तरह के पोस्टर रखें हैं। इन पोस्टरों पर लिखा है- ‘लाठ गोली नहीं, रोजगार रोटी दो।’ इससे पहले प्रियंका ने ट्वीट कर सरकार पर निशाना साधा है। प्रियंका ने लिखा, ”देश के विश्वविद्यालयों में घुस घुसकर विद्यार्थियों को पीटा जा रहा है। जिस समय सरकार को आगे बढ़कर लोगों की बात सुननी चाहिए, उस समय भाजपा सरकार उत्तर पूर्व, उत्तर प्रदेश, दिल्ली में विद्यार्थियों और पत्रकारों पर दमन के जरिए अपनी मौजूदगी दर्ज करा रही है। यह सरकर कायर है।”

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा,  ”जनता की आवाज़ से डरती है। इस देश के नौजवानों, उनके साहस और उनकी हिम्मत को अपनी खोखली तानाशाही से दबाना चाहती है। यह भारतीय युवा हैं, सुन लीजिए मोदी जी, यह दबेगा नहीं, इसकी आवाज़ आपको आज नहीं तो कल सुननी ही पड़ेगी।”

वहीं जामिया मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी बयान दिया है। सोनिया गांधी ने कहा, ”शासन देने में मोदी सरकार फेल है और मोदी सरकार बंटवारे की जननी है। मोदी सरकार की मंशा साफ है कि देश में अस्थिरता फैलाओ, देश में हिंसा फैलाओ, देश के युवाओं के अधिकार छीनते जाओ। देश में धार्मिक उन्माद का वातावरण बनाओ और राजनैतिक रोटियां सेंकते जाओ।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles